सूरत से बिहार तक चली पहली टेक्सटाइल पार्सल स्पेशल ट्रेन, कपड़ा कारोबारियों के लिए रेलवे की सौगात

Priya Gupta, Last updated: Mon, 6th Sep 2021, 12:00 PM IST
  • कपड़ा कारोबारियों के लिए रेलवे की सौगात. कपड़ा कारोबारियों को एक जगह से दूसरी जगह तक कपड़ा ले जाने के लिए ट्रेन की शुरुआत की है.
सूरत से बिहार तक चली पहली टेक्सटाइल पार्सल स्पेशल ट्रेन

पटना: भारतीय रेल ने कपड़ा कारोबारियों को सौगात दी है. कपड़ा कारोबारियों को एक जगह से दूसरी जगह तक कपड़ा ले जाने के लिए ट्रेन की शुरुआत की है. भारतीय रेल ने गुजरात के सूरत से बिहार तक कपड़ा पहुंचाने के लिए एक 'टेक्सटाइल पार्सल' स्पेशल ट्रेन चलाया जा रहा है. ये ट्रेन शनिवार को पहली बार रवाना किया गया. पश्चिम रेलवे के अधिकारियों ने रविवार को इस बात की जानकारी दी थी.

अधिकारियों ने बताया है कि इस ट्रेन को चलाने का का उद्देश्य किफायती, तेज और सुरक्षित ट्रांसपोर्ट के जरिए सूरत के कपड़ा बाजार को बढ़ावा देना है. पश्चिम रेलवे ने इस बारे में ट्वीट कर बताया है. पश्चिम रेलवे ने ट्वीट में लिखा कि रेल और कपड़ा राज्यमंत्री दर्शना जरदोश ने शनिवार को सूरत से उधना न्यू गुड्स से पटना के निकट दानापुर और मुजफ्फरपुर के रामदयालू नगर के लिए इस स्पेशल को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. पश्चिम रेलवे के चीफ पीआरओ सुमित ठाकुर ने कहा था कि न्यू गुड्स में संशोधित एनएमजी (New Modified Goods) डिब्बों में पहली बार कपड़ा सामग्री को लोड किया गया. इसके बाद ये ट्रेन पहली बार सूरत से मुजफ्फरपुर के लिए रवाना हुई.

Muzaffarpur: BRABU पीजी एडमिशन के लिए तीसरी मेरिट लिस्ट आज होगी जारी, वेबसाइट से करें डाउनलोड

इससे पहले पश्चिम रेलवे के मुंबई डिविजन की तरफ से हाल ही में पहली बार 202.4 टन कपड़ा सामग्री को सूरत के पास चलथन से कोलकाता से शालीमार तक पहुंचाया गया था. पहली टेक्सटाइल पार्सल स्पेशन ट्रेन के रवाना होने के दौरान वहां पश्चिम रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी समेत स्थानीय विधायक और फेडरेशन ऑफ सूरत टेक्सटाइल ट्रेडर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधि मौजूद थे. इस ट्रेन के चलने के कपड़ा कारोबारियों के लिए सामान लाना ले जाना काफी आसान हो जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें