स्वास्थ्य विभाग का बड़ा कारनामा, रिश्वत और धोखाधड़ी के आरोपी को बना दिया निबंधक

Smart News Team, Last updated: Sat, 13th Feb 2021, 9:42 AM IST
  • एएनएम स्कूल, लार्ड एल्गिन हॉस्पीटल, गया की सह प्रभारी प्राचार्य रीतू कुमारी को बिहार निर्सिंग निबंधन परिषद का प्रभारी निबंधक नियुक्त किया गया है. रीतू कुमारी के खिलाफ साल 2018 में सिविल लाइन्स थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया था.
बिहार स्वास्थ्य विभाग

पटना: बिहार में स्वास्थ्य विभाग का एक बड़ा कारनामा सामने आया है. यहां रिश्वत और धोखाधड़ी के आरोपी को बिहार निर्सिंग निबंधन परिषद का प्रभारी निबंधक नियुक्त कर दिया गया है. बता दें एएनएम स्कूल, लार्ड एल्गिन हॉस्पीटल, गया की सह प्रभारी प्राचार्य रीतू कुमारी को निबंधक नियुक्त किया गया है. रीतू कुमारी के खिलाफ साल 2018 में सिविल लाइन्स थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया था.

आपको बता दें कि रीतू कुमारी के पर एएनएम ट्रेनिंग की व्यवहारिक परीक्षा में स्कूल की छात्राओं से परीक्षा में पास कराने के लिए पैसे लेने के साथ 1.55 लाख रुपए बरामद होने का भी आरोप है. साथ ही आरोपी रीतू कुमारी के खिलाफ प्रभावती अस्पताल, गया की गृह संरक्षिका रेणु कुमारी ने भी जिलाधिकारी से पत्र लिखकर जांच की मांग की है. रेणु कुमारी ने आरोपी रीतू कुमारी पर अनावश्यक रूप से परेशान किए जाने का आरोप लगाया है.

पटना सर्राफा बाजार में सोना व चांदी गिरी, आज का मंडी भाव

वहीं, इस सभी आरोपों को दरकिनार करते हुए स्वास्थ्य विभाग ने रीतू कुमारी को बिहार नर्सिंग निबंधन काउंसिल का प्रभारी निबंधक की जिम्मेदारी सौंप दी है. स्वास्थ्य विभाग के निदेशक प्रमुख, स्वास्थ्य सेवाएं, बिहार डॉ. कौशल कुमार ने आदेश जारी कर इसे तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया है. मामले की जानकारी होने पर स्वास्थ्य विभाग के निदेशक प्रमुख डॉ. कौशल कुमार का कहना है कि प्रभारी निबंधक के खिलाफ विभागीय स्तर पर कोई आरोप की सूचना नहीं है. साक्ष्य के साथ लिखित आरोप मिलने पर कार्रवाई की जाएगी.

पेट्रोल डीजल 13 फरवरी का रेट: पटना, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, पूर्णिया में बढ़े दाम

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें