पटना डीटीओ में फर्जीवाड़ा, फर्जी चेसिस नंबर की गाड़ी का रजिस्ट्रेशन हुआ

Smart News Team, Last updated: Wed, 24th Feb 2021, 6:32 PM IST
  • पटना डीटीओ में ऐसी गाड़ी का रजिस्ट्रेशन हुआ है जिसको महिंद्रा कंपनी ने कभी बनाया ही नहीं है. जांच के दौरान इस गाड़ी का चेसिस नंबर फर्जी पाया गया है, क्योंकि इस चेसिस नंबर की गाड़ी का निर्माण ही नहीं किया गया. मामले का खुलासा सोनपुर थाने में जब्त गाड़ी की जांच से हुआ है.
पटना डीटीओ में फर्जीवाड़ा

पटना: डीटीओ में बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया है. पटना डीटीओ में ऐसी गाड़ी का रजिस्ट्रेशन हुआ है जिसको महिंद्रा कंपनी ने कभी बनाया ही नहीं है. जांच के दौरान इस गाड़ी का चेसिस नंबर फर्जी पाया गया है, क्योंकि इस चेसिस नंबर की गाड़ी का निर्माण ही नहीं किया गया. मामले का खुलासा सोनपुर थाने में जब्त गाड़ी की जांच से हुआ है. फर्जी चेसिस वाली गाड़ी का रजिस्ट्रेशन 27 जून 2017 को कराया गया था.

डीटीओ में हुए ऑडिट में गाड़ी का टैक्स जमा न होने की शिकायत मिली थी. रजिस्ट्रेशन के वक्त तत्कालीन डीटीओ अजय कुमार ठाकुर थे, जिन पर पहले भी कई बार भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे. जानकारी के मुताबिक अजय कुमार ठाकुर के कार्यकाल में क्लर्क अमित कुमार गौतम की देखरेख में ही पूरा रजिस्ट्रेशन का काम होता था.

नीतीश सरकार का बड़ा फैसला, जमीन खरीद में होने वाली धोखाधड़ी पर लगेगी लगाम

खबर ये भी है कि इस दौरान कई गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन बिना टैक्स जमा किए गलत तरीके से हुआ. सितंबर महीने में जांच कमेटी बिठाने के बावजूद मामले की अब तक जांच रिपोर्ट नहीं आई है.

CM नीतीश कुमार समेत 14 के खिलाफ मुजफ्फरपुर सिविल कोर्ट में दर्ज हुआ केस

वहीं, इस मामले में सोनपुर थाने में केस दर्ज होने के बाद पुलिस ने पटना डीटीओ को पत्र लिखकर जानकारी मांगी है. सोनपुर थाने की अवर निरीक्षक प्रतिमा कुमारी ने जानकारी देते हुए कहा कि पटना डीटीओ ने सारी सूचना उपलब्ध कराई है. गलत चेसिस नंबर पर पटना डीटीओ में फर्जीवाड़े का ये पूरा खेल हुआ है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें