रेस्टोरेंट में चोरी करते हुए पकड़ा गया तो कर दी सहकर्मी की बेरहमी से हत्या

Smart News Team, Last updated: Tue, 30th Mar 2021, 9:37 PM IST
  • अशोक राजपथ रोड में शनिवार रात पीरबहोर थानाक्षेत्र के शुभराज रेस्टोरेंट मालिक के मकान में चोरी करते देख लेने पर राज से पर्दा न उठे इसलिए एक ही रेस्टोरेंट में काम करने वाले सहकर्मी ने 30 साल पुराने कर्मचारी को छैनी - हाधौड़ी से मार कर हत्या कर दी.
रेस्टोरेंट में चोरी करते हुए पकड़ा गया तो कर दी सहकर्मी की बेरहमी से हत्या

पटना: पटना के अशोक राजपथ रोड में शनिवार रात पीरबहोर थानाक्षेत्र के शुभराज रेस्टोरेंट मालिक के मकान में चोरी करते देख लेने पर राज से पर्दा न उठे इसलिए एक ही रेस्टोरेंट में काम करने वाले सहकर्मी ने 30 साल पुराने कर्मचारी को छैनी - हाधौड़ी से मार कर हत्या कर दी.

शुभराज रेस्टोरेंट में बंगाली नाम से प्रसिद्ध एक कर्मी पिछले 30 साल से कार्यरत था. शनिवार की रात बंगाली अपने सर्वेंट क्वार्टर में सोया हुआ था. उसी रात नया भर्ती कर्मी नीरज उर्फ बादशाह व और उसका दोस्त रेस्टोरेंट मालिक राजेंद्र अरोड़ा के बेटे के कमरे में चोरी की नीयत से घुसे जो फिलहाल पुणे में हैं. चोरी करते वक्त बंगाली ने दोनों को पकड़ लिया. चोरी उजागर होने के डर से इस पर नीरज ने अपने साथी के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी.

RJD अब ‘करो या मरो’ आंदोलन करेगी शुरू, नीतीश सरकार के खिलाफ बनाई रणनीति

मिली जानकारी के अनुसार छेनी-हथौड़ी और मसाला पीसने वाले खल-मूसल से सिर पर वार कर बंगाली की हत्या की गई है. उसके हाथ और पैर बंधे हुए मिले. इस मामले में पीरबहोर थाने में रेस्टोरेंट मालिक के बयान पर केस दर्ज किया गया है. पुलिस आरोपित नीरज की तलाश में छापेमारी कर रही है. आरोपी की तालाश और उसके साथी की तस्वीर के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है.

JDU में शामिल हो सकते है भगवान सिंह कुशवाहा, की वशिष्ठ नारायण से मुलाकात

रविवार की सुबह जब राजेंद्र अरोड़ा और उनकी पत्नी ने बंगाली को आवाज लगाई तो वह नहीं आया. दोनों ने छत पर जाकर देखा तो उसकी लाश पड़ी मिली. बंगाली के हाथ पैर बंधे थे. यह देख वृद्ध दंपती घबरा गए. उन्होंने फौरन पुलिस को खबर दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को जब्त कर लिया. अब तक एक मोबाइल व कुछ सामान की चोरी होने की बात सामने आई है. राहुल के पटना पहुंचने के बाद यह स्पष्ट होगा कि नीरज और उसके साथी कौन-कौन से सामान चोरी कर ले गए हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें