राजद सुप्रीमो लालू यादव की बढ़ी मुश्किलें, चारा घोटाला में कोर्ट ने कसा शिकंजा

Anurag Gupta1, Last updated: Wed, 17th Nov 2021, 6:43 PM IST
  • राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को पटना सिविल कोर्ट ने 23 नवंबर को सदेह हाजिर होने को कहा है. लालू प्रसाद यादव के अधिवक्ता ने उनकी ओर से न्यायालय में उपस्थिति दर्ज कराई थी. मामला भागलपुर के बांका जिला के उपकोषागार से फर्जी तरीके से 46 लाख रुपये की अवैध निकासी से संबंधित है.
आरजेडी राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (फाइल फोटो)

पटना. लंबे समय से बीमार चल रहे राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की चारा घोटाले ने एक बार फिर मुश्किलें बढ़ा दी हैं. चारा घोटाला मामले में लालू प्रसाद को पटना सिविल कोर्ट ने आने वाले 23 नवंबर को सदेह हाजिर होने को कहा है. मामले की सुनवाई कर रहे सीबीआई की विशेष अदालत के न्यायाधीश प्रजेश कुमार ने आदेश दिया है.

न्यायाधीश ने लालू प्रसाद सहित 27 लोगों को 23 नवंबर को अदालत में हाजिर होने को कहा है. अदालत ने पहले सभी अभियुक्तों को मामले में उचित पैरवी करने का निर्देश दिया था. बता दें मामले में मंगलवार को आरके राणा, जगदीश शर्मा, ध्रुव भगत, बैग जूलियस, त्रिपुरारी मोहन प्रसाद, फैडरिक करकेटा समेत 16 आरोपित न्यायालय में सदेह उपस्थित हुए थे लेकिन लालू प्रसाद यादव, नागेंद्र पाठक और प्रकाश कुमार के अधिवक्ता ने उनकी ओर से न्यायालय में उपस्थिति दर्ज कराई. मामला भागलपुर के बांका जिला के उपकोषागार से फर्जी तरीके से 46 लाख रुपये की अवैध निकासी से संबंधित है.

नीतीश सरकार के 16 साल 24 नवंबर को होंगे पूरे, JDU बिहार भर में करेगी कार्यक्रम

मीसा भारती के साथ है लालू प्रसाद यादव:

लालू प्रसाद यादव इस वक्त अपनी बेटी मीसा भारती के साथ सरकारी आवास में रह रहे हैं. मीसा भारती राज्य सभा सदस्य है. लालू प्रसाद यादव लंबे समय से बीमार चल रहे है. मालूम हो कि लालू प्रसाद इलाज के लिए सिंगापुर भी गए थे. करीब तीन साल बाद उपचुनाव में अपनी पार्टी का समर्थन करने लालू प्रसाद पटना आए थे. चुनाव के उपरांत अपनी पत्नी राबड़ी देवी के साथ वापस दिल्ली लौट गए थे. बताया जा रहा था कि तबियत खराब होने के चलते उन्हें दिल्ली वापस भेजा गया लेकिन कोर्ट के आदेश के बाद उन्हें डॉक्टरों की देखरेख में पटना आना पड़ेगा.

बता दें डोरंडा कोषागार से 139.35 करोड़ रुपये की अवैध निकासी के मामले लालू प्रसाद यादव की ओर से 29 नवंबर से बहस होगी. मामले में अब तक 56 लोगों की ओर से बहस पूरी कर ली गई है. एक-दो आपूर्तिकर्ता आरोपितों को छोड़कर अन्य की ओर से बहस पूरी हो चुकी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें