क्या पता PM मोदी और CM नीतीश ने अपने लिए कोरोना का अलग टीका बनवाया हो-RJD विधायक

Smart News Team, Last updated: 01/03/2021 06:02 PM IST
राजद नेता और मनेर विधायक भाई वीरेंद्र ने अपने बयान में कहा कि क्या पता क्या पता PM मोदी और CM नीतीश ने अपने लिए कोरोना का अलग टीका बनवाया हो और हमारे लिए अलग टीका बनवा दें. हम पहले जांच करेंगे और उसके बाद ही कोरोना का टीका लेंगे.
इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान शेखपुरा, पटना परिसर में कोरोना का टीका लगाते हुए सीएम नीतीश कुमार.

पटना. प्रधानमंत्री मोदी और प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के टीका लगवाने के बाद अब इस पर राजनीति भी शुरू हो गई है. राजद नेता और मनेर से विधायक भाई वीरेंद्र ने कहा कि हम लोग पहले जांच करेंगे और उसके बाद कोरोना का टीका लेंगे. क्या पता पीएम मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने लिए कोरोना का अलग टीका बनवाया हो. और हम लोगों के लिए अलग टीका बनवा दें.

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को दिल्ली के एम्स में कोरोना की वैक्सीन लगवाई. इसके साथ ही बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने 70 वें जन्मदिन पर इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान शेखपुरा, पटना परिसर में कोरोना का टीका लगवाया. इस दौरान सीएम के साथ प्रदेश के दोनों उपमुख्यमंत्री तारा किशोर प्रसाद और रेणु देवी, शिक्षा मंत्री विजय चौधरी और ऊर्जा मंत्री विजेंद्र यादव ने कोरोना वैक्सीन के पहले डोज का टीका लगवाया.

पटना: निजी अस्पतालों में भी कोरोना वैक्सीन फ्री, कल CM नीतीश लेंगे वैक्सीन

गौरतलब है कि बिहार में अपने चुनावी वायदे को पूरा करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सभी नागरिकों को मुफ्त में कोरोना का टीका लगाने की घोषणा कर दी है. हालांकि केंद्र सरकार ने कहा है कि निजी अस्पतालों में अधिकतम 250 रुपये का शुल्क लगेगा जबकि बिहार के सभी निजी और सरकारी अस्पताल में टीका लेने पर किसी शुल्क का भुगतान नहीं करना होगा. ऐसे में निजी अस्पतालों में टीकाकरण के खर्च का भुगतान खुद नीतीश सरकार करेगी. इसके लिए नीतीश सरकार ने नवंबर 2020 में ही मुफ्त टीकाकरण के फैसले पर अपनी स्वीकृति दे दी थी.

पटना: कोरोना गाइडलाइंस के साथ सोमवार से 5वीं तक के सभी सरकारी स्कूल खुलेंगे

जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य विभाग ने तीसरे चरण के टीकाकरण के लिए 50 निजी क्षेत्र के अस्पतालों को अभियान से जोड़ा है. राज्य के सभी जिलों में कम से कम एक निजी अस्पताल को टीकाकरण अभियान में शामिल किया गया है. इस चरण में निर्धारित उम्र सीमा वाले कोई भी नागरिक कोविन- 2.0 पोर्टल पर टीकाकरण के लिए स्थल और तिथि का खुद चुन कर सकते हैं. साथ ही, निजी या सरकारी अस्पताल में टीका के लिए भी उन्हें चयन का विकल्प दिया जाएगा. ऐसे में निजी अस्पताल भी कोरोना टीका अभियान में शामिल होंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें