शिक्षकों को नियुक्ति पत्र न मिलने पर तेजस्वी ने पूछा- नीतीश जी, नौजवानों को…

Smart News Team, Last updated: Mon, 24th May 2021, 10:26 PM IST
  • राजद नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट करते हुए कहा कि नीतीश सरकार ने बिहार के शिक्षकों को दा साल से नियुक्ति पत्र नहीं दिया है. उन्होंने सवाल करते कहा कि नीतीश जी, बिहार के नौजवानों को बेरोजगार और बंधुआ मजूदर क्यों बनाना चाहते हो?
दो साल से शिक्षकों को नियुक्ति पत्र न मिलने पर तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश को घेरा.

पटना. कोरोना संक्रमण के बीच राजद नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार को शिक्षकों को नियुक्ति पत्र न मिलने पर घेरा है. तेजस्वी यादव ने सोमवार को ट्वीट करते हुए कहा कि दो साल से नीतीश सरकार ने शिक्षकों को नियुक्ति पत्र नहीं दिया है. नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि नीतीश जी, बिहार के नौजवानों को बंधुआ मजदूर क्यों बनाना चाहते हैं?

तेजस्वी यादव ने ट्वीट करते हुए कहा कि नियोजन प्रक्रिया की सारी अहर्ताएं और प्रकियाएं पूरी करने के बावजूद पिछले दो सालों से नीतीश सरकार ने नियुक्ति पत्र प्रतिभावान शिक्षकों को नहीं दिया है. उन्होंने कहा कि नीतीश जी, आखिर बिहार के नौजवानों को बेरोजगार और बंधुआ मजदूर ही क्यों बनाना चाहते हैं?

बिहार में कम हुआ कोरोना का कहर, पटना में सोमवार को मिले 490 नए कोविड केस

राजद नेता तेजस्वी यादव ने एक दूसरे ट्वीट में कहा कि शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया को येन केन प्रकारेण टालना नीतीश जी की द्वेषपूर्ण मानसिकता को उजागता करता है. नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि हमने अपने प्रण पत्र में संविदा प्रथा खत्म कर समान काम समान वेतन देने का संकल्प किया था और साथ ही सभी खाली पदों को पहली कलम से भरने का संकल्प लिया था.

नीतीश सरकार के स्वास्थ्य मंत्री का बयान- कोरोना वैक्सीन को खरीदने की जरूरत नहीं

तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में प्राइमरी से लेकर सेकेडरी स्तर तक शिक्षकों की भारी कमी है. राज्य सरकार ने शिक्षा व्यवस्था को बर्बाद कर दिया है और शिक्षकों का लगातार निरादर किया है. तेजस्वी ने सोमवार को एक दूसरी ट्वीट में कहा कि बिहार एनडीए के सभी एमपी, जेडीयू-बीजेपी के सभी मंत्री और एमएलए डर के मारे घरों में छिपे बैठे हैं. राजद के सभी विधायक और नेता कठिन समय में जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें