नीतीश को तेजस्वी का अल्टीमेटम, मंत्री के स्कूल में थाना खोलो वरना घेरेंगे CM हाउस

Smart News Team, Last updated: Wed, 17th Mar 2021, 5:38 PM IST
  • राजद नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार सरकार को अल्टीमेटम देने हुए कहा है कि अगर एक सप्ताह में बिहार सरकार में मंत्री रामसूरत राय के भाई के स्कूल में थाना नहीं खोला गया तो वे मुख्यमंत्री आवास का घेराव करेंगे. 
तेजस्वी ने प्रेस काॅन्फ्रेंस में नीतीश सरकार और मंत्री रामसूरत पर जमकर निशाना साधा है. क्रेडिटः तेजस्वी यादव फेसबुक.

पटना.  बिहार की नीतीश कुमार सरकार में राजस्व मंत्री और भाजपा विधायक रामसूरत राय के खिलाफ राजद नेता ने तेजस्वी यादव ने मोर्चा खोल दिया है. तेजस्वी ने सीएम नीतीश कुमार को अल्टीमेटम देते हुए कहा कि एक सप्ताह के भीतर मंत्री के भाई के स्कूल में पुलिस स्टेशन नहीं खोला गया तो वे सीएम हाउस का घेराव करेंगे. आपको बता दें कि हाल ही में राज्य सरकार ने ये घोषणा की है कि जहां पर शराब बरामद होगी वहां पुलिस स्टेशन खोल दिया जाएगा.

गौरतलब है कि बुधवार को आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. पत्रकारों से बातचीत करते हुए तेजस्वी ने कहा कि अगर सीएम नीतीश कुमार अपने मंत्री के भाई को गिरफ्तार करने या मंत्रिमंडल से बर्खास्त करने में असहाय हैं तो बेहतर है कि 1 अप्रैल को वे अपने सरकारी आवास और मंत्रियों के आवास पर ठेका खुलवा दें. आपको बता दें कि 1 अप्रैल को ही बिहार में शराबबंदी लागू की गई थी.

तेजस्वी का नीतीश सरकार पर हमला-मंत्री के भाई अरेस्ट नहीं, CM हमारी मांग पर चुप

तेजस्वी यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री को अपने आवास पर एक शराब का ठेका खोल लेना चाहिए. जिससे शराब तस्करी की जांच कर पाएंगे और मंत्रियों को बर्खास्त करने से बचाएंगे. तेजस्वी यादव ने कहा, पिछले साल नवंबर में मुजफ्फरपुर के बोचहा में स्कूल परिसर से शराब की खेप की बरामदगी के मामले की जांच में पता चला है शराब के लिए इस्तेमाल होने वाली पिक अप वैन मंत्री के भाई के नाम पर थी.

पटना में शराब की होम डिलीवरी पर लगेगी लगाम, पुलिस ने की खास तैयारियां, जानें

तेजस्वी यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में पुलिस रिकाॅर्ड दिखाते हुए कहा कि पुलिस रिपोर्ट में मंत्री संजीव कुमार के दूसरे रिश्तेदार के बारे में भी जिक्र है. इससे पहले बिहार सरकार में मंत्री रामसूरत राय ने कहा था कि बोचहा में जिस जमीन पर स्कूल चल रहा है वो उसके भाई की खरीदी हुई है न कि पैतृक है. मंत्री ने कहा था कि क्या मुझे भाई के आचरण के लिए दोषी ठहराया जाएगा. अगर वो गलत है तो उसके खिलाफ कार्रवाई करें.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें