तेजस्वी ने कराया RJD विधायकों का सर्वे, दो दर्जन MLA के टिकट पर लालू लेंगे फैसला

Smart News Team, Last updated: Thu, 1st Oct 2020, 12:00 AM IST
आरजेडी नेता और बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने विधानसभा चुनाव में राजद विधायकों को लेकर जनता के बीच एक प्राइवेट एजेंसी से सर्वे कराया है जिसके बाद दो दर्जन एमएलए के टिकट पर खतरा मंडरा रहा है.
तेजस्वी यादव ने विधानसभा चुनाव में राजद विधायकों को लेकर जनता के बीच एक प्राइवेट एजेंसी से सर्वे कराया है.

पटना. बिहार में मुख्य विपक्षी दल राष्ट्रीय जनता दल के दो दर्जन विधायकों के टिकट पर तलवार लटक गई है. पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने पार्टी के एमएलए के कामकाज और जनता के बीच उनके प्रदर्शन को लेकर एक प्राइवेट एजेंसी से सर्वे कराकर फीडबैक लिया है जिसके बाद कहा जा रहा है कि दो दर्जन विधायकों के टिकट कन्फर्म से निकालकर वेटिंग में डाल दिए गए हैं. इन सबका फैसला पशुपालन घोटाला में रांची में सजा काट रहे आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव करेंगे.

सूत्रों का कहना है कि तेजस्वी यादव ने अपने मौजूदा विधायकों के साथ-साथ बाकी क्षेत्रों में भी पार्टी के नेताओं को टिकट देने में बेहतर रिजल्ट की संभावना तलाशन के लिए एक प्राइवेट एजेंसी को काम पर लगाया था. उस एजेंसी की रिपोर्ट आ गई है जिसमें दो दर्जन एमएलए का रिपोर्ट कार्ड ठीक नहीं है. एजेंसी की फीडबैक के मुताबिक जनता में इन विधायकों को लेकर गुस्सा है जिसका खामियाजा महागठबंधन को उठाना पड़ सकता है.

बिहार चुनाव: मांझी, कुशवाहा के बाद माले का महागठबंधन से किनारा, पहली लिस्ट जारी

एजेंसी फीडबैक से टिकट कटने की आशंका में दुबले हो रहे कई विधायक खुलकर विरोध कर चुके हैं. पार्टी कार्यालय से लेकर पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास तक पर प्रदर्शन हो चुका है. सूत्रों का कहना है कि लालू यादव इन विधायकों के टिकट पर अंतिम फैसला लेंगे. जिन नेताओं के फीडबैक में दिक्कत नहीं थी, उन्हें क्षेत्र में चुनाव प्रचार में कमर कसकर उतर जाने का इशारा कर दिया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें