लालू यादव का नीतीश सरकार पर हमला, कहा- मौत का आंकड़े छुपा रहे सत्ता में बैठे लोग

Smart News Team, Last updated: Tue, 18th May 2021, 8:16 PM IST
  • बिहार में मौत के आंकड़ों को लेकर राजद अध्यक्ष लालू यादव ने नीतीश सरकार पर जमकर निशाना साधा. लालू यादव ने ट्वीट करते हुए कहा कि सत्ता में बैठे लोग मौत के आंकड़ों को छुपा रहे हैं.
राजद मुखिया लालू यादव ने ट्वीट करके मौत के आंकड़ों को लेकर बिहार सरकार पर निशाना साधा.

पटना. कोरोना संक्रमण के बीच राजद मुखिया लालू यादव ने नीतीश सरकार पर निशाना साधा है. लालू यादव ने मंगलवार को ट्वीट करते हुए कहा कि बिहार के महाजंगलराज की कहानी, सत्ता में बैठे लोग मौत के आंकड़े भी छुपा रहे हैं. आपको बता दें कि बिहार के बक्सर के पास गंगा में नदी में लाशों पर कोर्ट ने सरकार से जवाब मांगा था.

इसी पर राजद अध्यक्ष लालू यादव ने ट्वीट करते हुए कहा कि बिहार के महा के महाजंगलराज की कहानी. जालसाज सत्ता में बैठे मौत भी छुपा रहे हैं. उन्होंने आगे कहा कि माननीय कोर्ट ने पूछा बक्सर जिला में कुल कितनी मौतें हुईं? मुख्य सचिव ने 6 बताई तो कमिश्नर ने 789? हाईकोर्ट ने पूछा सच कौन? लालू ने कहा कि बक्सर जिला में ग्यारह सौ से ज्यादा गांव हैं. पता कर लीजिए हर गांव में औसत कितनी मौतें हुईं?

राजद अध्यक्ष लालू यादव का ट्वीट.

पटना. कोरोना संक्रमण के बीच राजद मुखिया लालू यादव ने नीतीश सरकार पर निशाना साधा है. लालू यादव ने मंगलवार को ट्वीट करते हुए कहा कि बिहार के महाजंगलराज की कहानी, सत्ता में बैठे लोग मौत भी छुपा रहे हैं. आपको बता दें कि बिहार के बक्सर के पास गंगा में नदी में लाशों पर कोर्ट ने सरकार से जवाब मांगा था.

इसी पर राजद अध्यक्ष लालू यादव ने ट्वीट करते हुए कहा कि बिहार के महा के महाजंगलराज की कहानी. जालसाज सत्ता में बैठे मौत भी छुपा रहे हैं. उन्होंने आगे कहा कि माननीय कोर्ट ने पूछा बक्सर जिला में कुल कितनी मौतें हुईं? मुख्य सचिव ने 6 बताई तो कमिश्नर ने 789? हाईकोर्ट ने पूछा सच कौन? लालू ने कहा कि बक्सर जिला में ग्यारह सौ से ज्यादा गांव हैं. पता कर लीजिए हर गांव में औसत कितनी मौतें हुईं?

|#+|

पटना HC की गंगा में मिली लाशों के मामले पर सख्ती, मार्च से अब तक का ब्यौरा मांगा

आपको बता दें कि बिहार के बक्सर में गंगा नदी में लाशें मिलने पर सोमवार को पटना हाईकोर्ट ने इस मामले पर सुनवाई की है. कोर्ट ने कहा कि इस मामले में राज्य सरकार के मुख्य सचिव और पटना प्रमंडलीय आयुक्त के हलफनामा में अंतर है. मुख्य सचिव ने अपने शपथ पत्र में 9 लाशों के तैरन को जिक्र किया. वहीं पटना प्रमंडलीय आयुक्त ने 850 से 900 कोविड मरीजों के अंतिम संस्कार की बात कही. 

सुशील मोदी ने पूछा- लालू और राबड़ी ने क्यों नहीं लगवाया वैक्सीन, ये मिला जवाब

इसके बाद हाईकोर्ट ने मुख्य सचिव से कहा कि गंगा में एक मार्च से अब तक कितनी लाशें मिल चुकी हैं. धार्मिक रिवाजों से कितने शवों को दाह संस्कार हुआ और कितने शवों को दफनाया गया है? कोर्ट ने मुख्य सचिव तीन तीन के अंदर इसका जवाब दाखिल करने के लिए कहा है. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें