RRB-NTPC: रेलमंत्री ने मानी आंदोलनकारी छात्रों की मांगें! सुशील मोदी का बड़ा दावा

Swati Gautam, Last updated: Thu, 27th Jan 2022, 9:57 PM IST
  • आरआरबी-एनटीपीसी परीक्षा को लेकर चल रहे छात्रों के प्रदर्शन के बीच प्रदेश के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि मैंने रेलमंत्री अश्वनी वैष्णव ने मुलाकात की. छात्रों की मांग पर सहमति बन गई है. अब रेलवे ग्रुप-डी की दो की बजाय एक परीक्षा ही होगी और एनटीपीसी की परीक्षा के 3.5 लाख अतिरिक्त परिणाम एक छात्र-यूनिक रिजल्ट के आधार पर जल्द घोषित किए जाएंगे.
पूर्व उपमुख्यमंत्री और बीजेपी नेता सुशील मोदी (फाइल फोटो)

पटना. आरआरबी-एनटीपीसी परीक्षा के लेकर चल रहे बवाल के बीच प्रदेश के पूर्व उपमुख्यमंत्री और बीजेपी नेता सुशील मोदी ने गुरुवार को राहत भरी खबर सुनाई है. सुशील मोदी ने बताया कि उन्होंने गुरुवार को रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से मुलाकात की. छात्रों की मांग पर सहमति बन गई है. सुशील मोदी ने बताया कि अब रेलवे ग्रुप-डी की दो की बजाय एक परीक्षा ही होगी और एनटीपीसी की परीक्षा के 3.5 लाख अतिरिक्त परिणाम एक छात्र-यूनिक रिजल्ट के आधार पर जल्द घोषित किए जाएंगे.

सुशील मोदी ने अपने ट्विटर पर वीडियो जारी कर इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि रेलवे बोर्ड ने यदि समय रहते स्पष्टीकरण दे दिया होता तो यह दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति उत्पन्न ही न होती. साथ ही सुशील मोदी ने राज्य के पुलिस प्रशासन से अपील करते हुए कहा कि छात्रों और शिक्षकों पर कोई दमनात्मक कार्रवाई न की जाए. छात्र कोई अपराधी नहीं हैं. साथ ही उन्होंने छात्रों को भी संयम बरतने की अपील की है. ताकि रेलवे बोर्ड मामले के सभी पहलुओं की जांच पूरी कर परीक्षार्थियों के हित में फैसला कर सके.

RRB NTPC बवाल: पटना के खान सर अंडरग्राउंड! मोबाइल स्विच ऑफ, पुलिस भेजेगी नोटिस

मालूम हो कि बिहार में छात्र संगठनों ने कल यानी 28 जनवरी को बंद का ऐलान किया है. जिसके पहले ही सुशील मोदी ने छात्रों की मांगों को लेकर बड़ी राहत वाली खबर दी है. सुशील मोदी ने कहा कि रेलमंत्री अश्वनी वैष्णव ने मुझे भरोसा दिलाया कि सरकार छात्रों से सहमत है और उनकी मांग के अनुरूप ही निर्णय जल्द किया जाएगा. मैंने लाखों अभ्यर्थियों की परेशानी और उनकी मांगों से रेल मंत्री वैष्णव को विस्तार से अवगत कराया.

क्या है मामला

भारतीय रेलवे के आरआरबी एनटीपीसी रिजल्ट में अनियमितता का आरोप लगाकर छात्र पिछले कई दिनों से लगातार विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं. यह प्रदर्शन अब बिहार के बाहर अन्य कई जिलों तक पहुंच गया. अक्रोषित छात्रों ने कई जगह ट्रेनों में आग लगा दी तो वहीं पुलिस ने भी छात्रों के हॉस्टल में घुस कर छात्रों की पिटाई की जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुई. कल यानी 26 जनवरी को छात्र संगठनों ने बंद का ऐलान किया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें