पटना में चिड़ियाघर घूमने के साथ ले सकेंगे लजीज खाने का आनंद, खुलेगा रेस्टोरेंट

Smart News Team, Last updated: 11/02/2021 06:20 PM IST
  • पटना के संजय गांधी जैविक उद्यान के बाहर अब नया रेस्टोरेंट खुलने जा रहा है. यह रेस्टोरेंट पार्किंग एरिया में बचे स्थान पर ही खोलने की योजना बनायी जा रही है. इस रेस्टोरेंट की खास बात यह होगी कि यह रात 9 बजे तक खुला रहेगा. जिससे अब रात में भी लोग रेस्टोरेंट के भोजन का आनंद ले सकेंगे. 
चिड़ियाघर में घूमने आने वाले सैलानियों के लिए रेस्टोरेंट को खोलने की योजना चि़ड़ियाघर के प्रशासन ने बनाई है.(फाइल फोटो)

पटना. पटना के चिड़ियाघर में घूमने आने वाले लोगों को एक नए रेस्टोरेंट की सौगात मिलने वाली है. इस बंबू रेस्टोरेंट को खोलने की योजना चि़ड़ियाघर के प्रशासन ने बनाई है. इस भोजनालय को चिड़ियाघर के बाहर पार्किंग स्थल में खोलने का विचार बनाया गया है. हालांकि अभी तक इसका प्रस्ताव पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन विभाग को नहीं भेजा गया है. लेकिन जल्द ही इस प्रस्ताव को पास कराने के लिए विभाग के पास भेजा जाएगा. इस प्रस्ताव के पास होने के बाद जल्द से जल्द गेट नंबर एक के बाहर इसके निर्माण का काम प्रारंभ किया जाएगा. 

चि़ड़ियाघर में पहले से मौजूद रेस्टोरेंट लॉकडाउन के कारण बंद है. इस कारण लोगों को खाने-पीने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. लोगों को खाने की चीजों के लिए चिड़ियाघर के बाहर लगे ठेलों व दुकानों पर निर्भर होना पड़ता है. इस नये भोजनालय के खुलने से लोगों की इस समस्या का निवारण भी हो जाएगा. इसके साथ ही उन्हें प्राकृतिक पर्यावरण में ही भोजन का जायका लेने का अवसर भी प्राप्त होगा. इस नये रेस्टोरेंट की एक खास विशेषता भी है कि यह रात के 9 बजे तक लोगों को भोजन कराने के लिए खुला रहेगा। जिससे दिन के साथ-साथ रात में भी यहाँ चहल-कदमी बनी रहेगी। इसके अलावा इस बात का भी ख्याल रखा जाएगा कि पार्किंग स्थल में रेस्टोरेंट के बनने से पार्किंग की कोई समस्या न हो. 

पासपोर्ट बनवा रहे हैं तो कैसे कराएं ऑनलाइन पुलिस वेरीफिकेशन, जानें फुल डिटेल्स

पटना का यह चि़ड़ियाघर देश के बड़े चिड़ियाघरों में से एक है. जिसे 1972 में बनाया गया था. इस जू के अंदर दो मंजिला रेस्टोरेंट भी है, जो लॉकडाउन के बाद से बंद है लेकिन अब इसके जल्द ही दोबारा खुलने की उम्मीद लगायी जा रही है. जिसमें से सिर्फ नीचे की मंजिल को ही खोला जाएगा और ऊपर की मंजिल को बंद रखा जाएगा। इसके अलावा इसके आस-पास के एरिया में सुंदरीकरण का कार्य भी प्रारंभ होगा।

मॉडलिंग का सपना पूरा करने के लिए पिता को दिया धोखा, अपहरण की साजिश रच मांगी फिरौती

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें