पटना एम्स में कोरोना वैक्सीन के परीक्षण का दूसरा चरण आज होगा पूरा

Smart News Team, Last updated: 14/10/2020 08:47 PM IST
  • आईसीएमआर और भारत बायोटेक की ओर से निर्मित पहली देसी कोरोना वेक्सीन का दूसरा चरण मानव परीक्षण बुधवार को पूरा हो जाएगा. आइसीएमआर से अनुमति मिलने के बाद तीसरे चरण का परीक्षण शुरू होगा
आइसीएमआर से अनुमति मिलने के बाद तीसरे चरण का परीक्षण शुरू होगा

पटना. पहली देसी कोरोना वैक्सीन का दूसरा चरण मानव परीक्षण आज  बुधवार को पूरा हो जाएगा. यह वैक्सीन पटना के अखिल भारतीय आनुर्विज्ञान संस्‍थान (एम्स) में भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद  और हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक द्वारा निर्मित है. नोडल पदाधिकारी एवं पटना एम्‍स के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सीएम सिंह ने इस बारे में जानकारी दी. उनका कहना है कि अब तक 11 महिलाएं भी वैक्सीन परीक्षण के लिए स्वेच्छा से आगे आई हैं। परीक्षण के प्रथम चरण में तीन महिलाएं और दूसरे चरण में आठ महिलाएं वालंटियर बनी हैं। परीक्षण के दूसरे चरण में 46 वालंटियरों को वैक्सीन की पहली और 44 को दूसरी खुराक दी जा चुकी है। शेष दो वालंटियरों को दवा देने के साथ बुधवार को दूसरा चरण भी पूरा हो जाएगा। आगे आइसीएमआर से अनुमति मिलने के बाद तीसरे चरण का परीक्षण शुरू होगा। 

  उन्होंने बताया कि जिन लोगों को वैक्सीन की खुराक दी गई है, उनके स्वास्थ्य की निगरानी  के लिए एम्स प्रबंधन की तरफ से पांच विशेषज्ञों की टीम बनाई गई है। दोनों चरणों के परीक्षण में किसी वालंटियर में कोई दुष्प्रभाव देखने को नहीं मिला है। तीसरे चरण का परीक्षण ऐसे लोगों पर किया जाएगा, जिन लोगों की मधुमेह, उच्च रक्तचाप, मोटापा आदि के कारण रोग प्रतिरोधक क्षमता पहले से काफी कम है।

बिहार चुनावः BJP ने तीसरे चरण के लिए जारी की उम्मीदवारों की लिस्ट

परीक्षण के पहले चरण में वालंटियरों को वैक्सीन देने के बाद चार सैंपल शोध के लिए आइसीएमआर भेजे जा चुके हैं। पांचवां सैंपल 22 अक्टूबर को भेजा जाएगा। इसके बाद शोधकर्ता आकलन करेंगे कि वैक्सीन देने के बाद कोरोना के खिलाफ शरीर में कितनी एंटीबॉडी बनी है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें