पटना: विधानसभा चुनाव के लिए कड़ी होगी सुरक्षा, 300 कंपनियां पहुंचेंगी बिहार

Smart News Team, Last updated: 28/09/2020 10:58 AM IST
  • बिहार विधानसभा चुनाव के लिए सुरक्षा कड़ी की जाएगी. इसके लिए 300 कंपनियां बिहार पहुंचेंगी. राजधानी पटना समेत अन्य जिलों में मतदान केंद्रों और बाकि जगहों पर तैनाती की जाएगी.
पटना: विधानसभा चुनाव के लिए कड़ी होगी सुरक्षा, 300 कंपनियां पहुंचेंगी बिहार

पटना. बिहार में विधानसभा चुनाव के लिए सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम करते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने चुनाव ड्यूटी के लिए लगभग 30,000 सैनिकों की तैनाती का आदेश दिया है. निर्देश के अनुसार, विधानसभा चुनाव के शांतिपूर्ण तरीके से सुनिश्चित करने के लिए बिहार में 300 कंपनियों को तैनात करने का निर्णय लिया गया है. कुल मिलाकर बिहार के 15 जिलों को वामपंथी उग्रवाद के रूप में पहचाना जाता है, जिनमें से पांच जिले- गया, औरंगाबाद, नवादा, लखीसराय और जमुई- माओवादियों से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं.

बिहार के गृह विभाग के सूत्रों ने बताया कि राज्य में तीन चरण के विधानसभा चुनाव से पहले केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) की 300 कंपनियां जल्द ही क्षेत्र के वर्चस्व और विश्वास-निर्माण उपायों की शुरुआत के लिए बिहार पहुंचेंगी. सीएपीएफ बटालियन 10 अक्टूबर से पहले राज्य में पहुंच जाएगी और मतदान की तारीख से सात दिन पहले तक 243 संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में तैनात रहेगी.

पटना: उत्तर बिहार में उफनाईं नदियां नहीं थमी, मुजफ्फरपुर समेत कई जिले प्रभावित

सूत्रों ने कहा कि राज्य पुलिस मुख्यालय ने निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए ईसीआई से 3600 कंपनियों सीएपीएफ के लिए एक अनुरोध भेजा था. पिछले 2015 के विधानसभा चुनावों में, राज्य को छह चरण के चुनावों के संचालन के लिए सीएपीएफ की 726 कंपनियां मिली थीं. राज्य पुलिस को कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए तैनाती को एक वरदान के रूप में देखा जा रहा है क्योंकि चुनाव अवधि के दौरान दुर्गा पूजा भी मनाया जाएगा.

प्रचार के लिए जदयू संगठन ने बनाई रणनीति, नीतीश का काम लोगों तक पहुंचाए

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें