नई गाड़ी खरीदने पर बिहार सरकार दे रही है टैक्स में 25% की छूट, ऐसे उठाएं फायदा

Ruchi Sharma, Last updated: Thu, 3rd Feb 2022, 3:48 PM IST
  • बिहार सरकार ने नया प्रस्ताव जारी कर बताया कि अपनी पुरानी और अनफिट गाड़ी को कबाड़ में स्क्रैप कराने पर निजी गाड़ी मालिकों को 15 साल तक मोटर वाहन टैक्स में 25 प्रतिशत की छूट मिलेगी.
बिहार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

पटना. बिहार सरकार ने हाल में कैबिनेट में एक बड़ा प्रस्ताव पारित किया है. इस प्रस्ताव के तहत राज्य सरकार गाड़ी खरीदने पर 15 साल तक टैक्स में भारी छूट दे रही हैं. अगर आप हाल ही में नई कार खरीदने की सोच रहे हैं तो यह खबर आपके लिए महत्वपूर्ण है. दरअसल बिहार सरकार ने नया प्रस्ताव जारी कर बताया कि अपनी पुरानी और अनफिट गाड़ी को कबाड़ में स्क्रैप कराने पर निजी गाड़ी मालिकों को 15 साल तक मोटर वाहन टैक्स में 25 प्रतिशत की छूट मिलेगी. वहीं परिवहन यानी कमर्शियल गाड़ियों के मालिक 8 साल तक टैक्स में छूट का लाभ ले सकेंगे.

राज्य में स्क्रैप पालिसी लागू किए जाने की कैबिनेट से स्वीकृति मिलने के बाद परिवहन विभाग ने इसकी अधिसूचना जारी कर दी है. परिवहन विभाग के अनुसार इस मामले में रजिस्ट्रीकरण प्राधिकार जबकि विभाग के सचिव या प्रधान सचिव को अपीलीय प्राधिकार अधिसूचित किया गया है. इसके तहत अपनी पुरानी और अनफिट गाड़ी को कबाड़ में स्क्रैप कराने पर निजी गाड़ी मालिकों को 15 साल तक मोटरवाहन कर में 25 प्रतिशत की छूट मिलेगी. जबकि, कामर्शियल वाहनों के मालिक आठ वर्ष तक टैक्स में छूट का लाभ ले सकेंगे.

यूपी चुनाव: 25 प्रतिशत प्रत्याशियों पर आपराधिक मामले दर्ज, 48 फीसदी करोड़पति, देखें रिपोर्ट

 

सर्टिफिकेट आफ डिपोजिट दिखाना होगा

परिवहन विभाग की अधिसूचना में बताया गया है कि पुरानी गाड़ी को स्क्रैप कराने के लिए सर्टिफिकेट आफ डिपोजिट प्रस्तुत करना होगा जिसके लिए रजिस्ट्रीकरण किया जाएगा. इसके बाद वाहन चालकों को स्क्रैपिंग प्रमाण पत्र दिया जाएगा. नई गाड़ी लेते समय यह स्क्रैपिंग प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा.

खोले जाएंगे कबाड़ केंद्र

बताते चले कि परिवहन विभाग जल्द ही कबाड़ केंद्र खोलने के लिए आवेदन आमंत्रित करेगा. जानकारी के मुताबिक कबाड़ केंद्र खोलने वालों से एक लाख निबंधन शुल्क जबकि 10 लाख की बैंक गारंटी भी ली जाएगी. कबाड़ केंद्र खोलने की मंजूरी 10 वर्षों के लिए दी जाएगी जिसे बाद में अगले 10 साल के लिए बढ़ाया जा सकेगा.

होगी पुलिस जांच

इसके साथ ही गाड़ियों को स्क्रैप करने से पहले पुलिस जांच भी कराई जाएगी. गाड़ी मालिकों को गाड़ी के आनर बुक के साथ स्व-अभिप्रमाणित शपथ पत्र भी देना होगा कि नष्ट होने वाली गाड़ी उनकी ही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें