पटना

अपराधियों को मात देंगे साइबर दस्ते

Malay, Last updated: 03/12/2019 11:59 PM IST
साइबर अपराधियों को मात देने के लिए पुलिस का दस्ता तैयार हो रहा है। देश में जो राज्य जिस अपराध को मात देने में पारंगत है, वहां की पुलिस से बिहार पुलिस प्रशिक्षण लेगी। पटना में अब तक दो हजार से अधिक...
पटना में तैयार हो रहे साइबर के सारथी, बढ़ती घटनाओं को लेकर कई प्रदेशो में ट्रेनिंग

साइबर अपराधियों को मात देने के लिए पुलिस का दस्ता तैयार हो रहा है। देश में जो राज्य जिस अपराध को मात देने में पारंगत है, वहां की पुलिस से बिहार पुलिस प्रशिक्षण लेगी। पटना में अब तक दो हजार से अधिक साइबर के महारथी तैयार किए जा चुके हैं। आर्थिक अपराध इकाई को प्रशक्षिण की जिम्मेदारी दी गई है और अब राजस्थान से लेकर अन्य कई प्रदेशों में पुलिस अधिकारियों को प्रशिक्षण के लिए भेजा जा रहा है। 

साइबर सुरक्षा का गुप्तचर प्रशिक्षण 
साइबर अपराध पर अंकुश लगाने के लिए पटना से आर्थिक अपराध इकाई दो डीएसपी को हैदराबाद भेज रहा है। वह वहां की पुलिस से विशेष प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे। गुप्तचर इकाई में वह साइबर क्राइम की सुरक्षा को लेकर हर उन बिंदुओं पर प्रशक्षिण प्राप्त करेंगे, जो पटना में नहीं दिया जा सका है। पुलिस अधिकारियों की मानें तो सुरक्षा को लेकर दल्लिी में भी साइबर सुरक्षा के प्रशिक्षण को लेकर इंस्पेक्टरों को भेजा जा रहा है। 

हर थाने में साइबर के महारथी 
साइबर क्राइम फॉरेंसिक एवं इंवेस्टीगेशन को लेकर प्रशिक्षण के लिए आर्थिक अपराध इकाई को नोडल एजेंसी के रूप में तैयार किया गया है। पटना के मुख्य कार्यालय में हर दिन क्लास लगती है, जहां साइबर अपराध के विशेषज्ञ प्रशक्षिण दे रहे हैं। एक साथ सौ से अधिक पुलिस वालों को प्रशक्षिण देने की व्यवस्था है। न्यायिक मजिस्ट्रेट को भी साइबर क्राइम से निपटने की जानकारी व अपराधियों तक पहुंचने का प्रशक्षिण दिया जा रहा है। 

पुलिस पदाधिकारियों को प्रशिक्षण देने का काम चल रहा है। अब तक दो हजार को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। देश के विभिन्न राज्यों में एक्सपर्ट के पास पुलिस पदाधिकारियों को भेजकर प्रशक्षिण दिलाया जा रहा है। वह पटना आकर यहां की पुलिस को प्रशिक्षित करेंगे।  
- पीके दास, एसपी, आर्थिक अपराध इकाई

अन्य खबरें