एग्जिट पोल: दिल्ली में फिर केजरीवाल सरकार

Malay, Last updated: 09/02/2020 05:57 PM IST
दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को मतदान संपन्न होने के बाद आए तकरीबन सभी चुनाव बाद सर्वेक्षणों (एग्जिट पोल) में मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी (आप) की बड़ी जीत का...
प्रतीकात्मक तस्वीर

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को मतदान संपन्न होने के बाद आए तकरीबन सभी चुनाव बाद सर्वेक्षणों (एग्जिट पोल) में मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी (आप) की बड़ी जीत का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है। कुछ सर्वेक्षणों में संकेत दिया गया है कि पार्टी 2015 का रिकॉर्ड दोहरा सकती है जब इसने 70 विधानसभा सीटों में से 67 पर जीत का परचम फहराया था। जहां एक तरफ एग्जिट पोल के नतीजों में दिल्ली में एक बार फिर आम आदमी पार्टी की सरकार लौटती नज़र आ रही है वहीं दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष मनोज तिवारी को नकारते हुए कहा कि भाजपा दिल्ली में 48 सीटों के साथ सरकार बनाएगी। कृपया ईवीएम पर आरोप मढ़ने का बहाना न ढूंढ़ें। वहीं, आप नेता एवं दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि उनकी पार्टी बड़े अंतर से चुनाव जीतने जा रही है।  

कांग्रेस प्रत्याशी अल्का लाम्बा की आप कार्यकर्ताओं से कहासुनी
चांदनी चौक से कांग्रेस प्रत्याशी अल्का लाम्बा की शनिवार को एक मतदान केंद्र के बाहर आप कार्यकर्ताओं के साथ कहासुनी हो गई। इन घटना का एक कथित वीडियो वायरल हुआ है। वीडियो में लाम्बा आप के एक कार्यकर्ता से बहस करती दिख रही हैं। उन्हें व्यक्ति को थप्पड़ मारने का प्रयास करते हुए भी देखा जा सकता है, हालांकि व्यक्ति को थप्पड़ नहीं लगा। लाम्बा ने आरोप लगाया कि उस व्यक्ति ने उनके खिलाफ बेहद आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग किया। चांदनी चौक से विधायक लाम्बा अपने विधानसभा क्षेत्र में एक मतदान केन्द्र के बाहर थीं। दिल्ली विधानसभा की सभी 70 सीटों के लिए आज मतदान हो रहा है। 

61.04 %  लोगों ने किया मतदान 
दिल्ली में शाम 6 बजे तक 13,750 केंद्रों पर वोटिंग हुई। कई पोलिंग बूथों पर मतदाताओं की लंबी कतारें दिखीं। दिल्ली के शाहीन बाग में मतदाताओं की भीड़ उमड़ पड़ी। वहीं, नई दिल्ली सीट पर सबसे कम मतदान हुआ। छिटपुट घटनाओं के बीच 70 विधानसभा सीटों के लिए चुनावी दंगल में उतरे 672 उम्मीदवारों का भाग्य ईवीएम में बंद हो गया। चुनाव आयोग के अनुसार 10:30 मिनट तक 61.04 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। रात साढ़े 8 बजे तक कई पोलिंग स्टेशनों पर मतदाता कतार में लगे थे। ऐसे में वोटिंग का आंकड़ा बढ़ सकता है। अब तक 2015 में सर्वाधिक 67 फीसदी मतदान हुआ था। मतदान के बाद देर रात तक कर्मचारी ईवीएम जमा कराने स्ट्रांग रूम पहुंचते रहे। वहीं, केजरीवाल ने ईवीएम की सुरक्षा निगरानी के लिए बैठक की। इसमें डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, गोपाल राय, संजय सिंह और चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर शामिल हुए। दूसरी ओर, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी दिल्ली के सातों भाजपा सांसदों और चुनाव प्रभारियों से चर्चा की।  

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें