अच्छी सेहत के लिए अच्छी सफाई भी जरूरी

Malay, Last updated: Thu, 26th Mar 2020, 2:25 PM IST
घर को साफ-सुथरा रखना आपकी और परिवार की सेहत के लिए बेहद जरूरी है। साफ-सफाई चाहे आप खुद करें, परिवार के साथ मिलकर करें या पैसे देकर किसी से करवाएं, सफाई प्रतिदिन होनी चाहिए। कुछ माता-पिता अपने बच्चों...
file photo

घर को साफ-सुथरा रखना आपकी और परिवार की सेहत के लिए बेहद जरूरी है। साफ-सफाई चाहे आप खुद करें, परिवार के साथ मिलकर करें या पैसे देकर किसी से करवाएं, सफाई प्रतिदिन होनी चाहिए। कुछ माता-पिता अपने बच्चों के लिए नियम बनाते हैं और उन्हें अपने घर में सफाई रखना सिखाते हैं। जैसे, स्कूल जाने से पहले अपना बिस्तर बनाना, गंदे कपड़े सही जगह रखना और खिलौने, किताबें जैसी चीजें ठीक-ठाक रखना आदि। उनका उद्देश्य घर में स्वस्थ वातावरण बनाए रखना होता है, ताकि बीमारियां दूर रह सकें। मौसम चाहे कोई भी क्यों न हो, घर की सफाई न की जाए, तो आपको कई तरह के गंदे बैक्टीरिया और संक्रमणों से जूझना पड़ सकता है। धूल ऐसी चीज है, जो अगर आपकी सांस के साथ शरीर में एक बार चली जाए, तो जुकाम, खांसी और कई बार बुखार की आशंका को बढ़ा देती है। आइए, जानते हैं इनसे बचे रहने के कुछ खास उपाय ताकि संक्रमणों से सुरक्षित रह सकें ।

साफ पानी का करें इस्तेमाल : अगर पानी साफ जगह से नहीं आ रहा है या अच्छी तरह नहीं रखा गया है, तो इससे पेट में कीड़े पड़ सकते हैं और हैजा, जानलेवा दस्त, टाइफॉएड, हेपेटाइटिस और दूसरी बीमारियां हो सकती हैं। इस बात का ध्यान रखें कि पीने का पानी, दांत साफ करने या कुल्ला करने वाला पानी और फल-सब्जियां धोने वाला पानी साफ होना चाहिए।

पुराना सामान हटाएं : आपको अपने घर से फालतू सामान निकाल देना चाहिए। वॉर्डरोब से पुराने कपड़े निकाल दें। टूटे हुए सामान, क्रॉकरी आदि को बाहर करें। आलमारी में रखे कपड़ों को बीच-बीच में धूप दिखाते रहें, ताकि उनमें ताजगी आ जाए।  घर में अकसर मकड़ियों के जाले होते हैं। सफाई करने से पहले इन जालों को हटाना जरूरी है।

किचन की सफाई : किचन की सफाई के लिए सबसे पहले बर्तन बाहर निकाल दें। किचन के स्लैब व टाइल्स को डिटर्जेंट के पानी से साफ कर सकते हैं। इसके बाद बर्तन स्टैंड व डिब्बों की सफाई करें और फिर सभी साफ बर्तन सही जगह पर रख दें। 

दीवारों की सफाई सूखे कपड़े से की जा सकती है। इससे पेंट खराब नहीं होता और धूल-मिट्टी भी झड़ जाती है। पूरे घर की सफाई करने के बाद घर के फर्श की सफाई करें। उसकी सफाई के लिए आप कई तरीके अपना सकते हैं। फर्श पर पोंछा लगा सकते  हैं या फिर धुलाई कर सकते हैं। ध्यान रखें कि सफाई के ये काम नियमित रूप से जरूरी हैं, ताकि धूल-मिट्टी आदि गंदगी जम न पाएं और फिर से आपको बीमार न करने लगे।

बीमारी से बचने और उसे फैलने से रोकने का सबसे अच्छा तरीका है अपने हाथों की सफाई करते रहना। गंदे हाथों पर कीटाणु होते हैं और जब हम गंदे हाथों से नाक पोंछते हैं या आंखें मलते हैं, तो सर्दी-जुकाम और फ्लू जैसी बीमारियां आसानी से फैल जाती हैं। ऐसी बीमारियों से बचने का सबसे अच्छा तरीका है, समय-समय पर अपने हाथ धोते रहना। साबुन से हाथ धोते वक्त अपने दोनों हाथों को तब तक मलें, जब तक उनमें झाग न बन जाए, फिर साफ बहते पानी से हाथ धोएं।

घर में लगे पंखे बहुत जल्दी गंदे हो जाते हैं। सबसे पहले देख लें कि पंखे का स्विच बंद हो। पंखे की सफाई पहले सूखे कपड़े से करें और जरूरी हो, तो उसके ब्लेड्स को गीले कपड़े से पोंछें। पंखों की सफाई के बाद आप घर के दरवाजों, खिड़कियों व फर्नीचर आदि की सफाई करें। इनकी सफाई के लिए डिटर्जेंट वाले पानी और कपड़ों का इस्तेमाल करें। घर की शेल्फ आदि की भी सफाई करें और शेल्फ के सामान को सूखे कपड़े से पोंछकर रखें। ऐसा करने से आप साफ और अच्छे वातावरण में जीवन बिता सकेंगे।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें