पुलिस के पहरे में बिका सस्ता प्याज

Malay, Last updated: 23/11/2019 12:39 AM IST
बिस्कोमान भवन...जोर-जोर से आवाजें आ रही थीं, प्याज मिल गया है...मैं घर आ रहा हूं। आज सब्जी में प्याज जरूर डालना। मोबाइल पर यह बातें बाकरगंज के उदित अपनी पत्नी से कर रहे थे। उन्होंने बताया कि सुबह...
पटना में 35 रुपए किलो प्याज की खबर सुनते ही लोग दौड़ पड़े। शुक्रवार को सुबह से ही बिस्कोमान भवन में प्याज के लिए लंबी कतार लग गई।

बिस्कोमान भवन...जोर-जोर से आवाजें आ रही थीं, प्याज मिल गया है...मैं घर आ रहा हूं। आज सब्जी में प्याज जरूर डालना। मोबाइल पर यह बातें बाकरगंज के उदित अपनी पत्नी से कर रहे थे। उन्होंने बताया कि सुबह जैसे ही खबर मिली कि बिस्कोमान में 35 रुपए किलो प्याज बिक रहा है तो मैं अपना सारा काम छोड़कर यहां आ गया। पहले लगभग डेढ़ घंटे लाइन में लगे रहने के बाद पैसा जमाकर एक रसीद दी गई। फिर दूसरी लाइन में एक घंटे लगने के बाद 2 किलो प्याज मिल गया। मैं बहुत खुश हूं क्योंकि 80 रुपए किलो प्याज खरीदने का मेरा सामर्थ्य नहीं है। उदित अकेले नहीं हैं। 52 हजार लोगों ने कतार में लगकर सस्ता प्याज लिया। प्याज की बढ़ती कीमतों को देखते हुए बिस्कोमान भवन की ओर से 35 रुपए किलो की दर से प्याज बांटा जा रहा है। इसके अलावा शहर के करीब 15 जगहों पर मोबाइल वैन से भी सस्ती दरों पर प्याज बेचा गया। 

अलवर से आया प्याज 
बिस्कोमान राजस्थान के अलवर से 60 रुपए प्रति किलो प्याज खरीद रहा है। पहले दिन करीब 60 हजार लोगों को लक्ष्य में रखकर बिस्कोमान भवन के 35 काउंटर और 5 मोबाइल वैन से प्याज की बिक्री की गई। अलवर में प्याज खत्म होने की स्थिति में विदेशी प्याज पटना आएगा।

जैसे ही आई गाड़ी, प्याज के लिए मच गई लूट
शहर में बोरिंग रोड चौराहे, नया सचिवालय, पाटलिपुत्र चौराहा, आईटीआई गोलंबर, राजीव नगर, राजा बाजार, बेली रोड पिलर-17, आरपीएस मोड़, सगुना मोड़ पर मोबाइल वैन से प्याज बेचा गया। इन केंद्रों पर जैसे ही प्याज लेकर मोबाइल वैन पहुंची, लूट मच गई। 2 ही घंटे में प्याज का स्टॉक  खत्म हो गया। वैन वापस हो गई। लोग दिनभर वैन को ढूंढ़ते रहे, लेकिन जाते-जाते वैन के कर्मचारी कह गए कि आज प्याज लेना है तो बिस्कोमान भवन आओ या फिर कल फिर इसी समय पर वैन आएगी। 10 वार्डों में भी प्याज लेकर मोबाइल वैन पहुंची।

जब तक प्याज की दरें कम नहीं होंगी, तब तक सस्ती दरों पर बिस्कोमान प्याज उपलब्ध कराएगा। हमें 25 रुपए का नुकसान है, लेकिन जनता को तो फायदा है। लोगों को इंतजार न करना पड़े, इसकी व्यवस्था भी की जाएगी।
-सुनील सिंह, अध्यक्ष, बिस्कोमान

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें