दिमाग को स्वस्थ रखने के लिए व्यस्त रखना जरूरी

Malay, Last updated: 03/02/2020 04:11 PM IST
स्वस्थ और तेज दिमाग की चाहत हर किसी की होती है। कई बार हम अपनी कुछ लापरवाहियों की वजह से भी अपने स्वस्थ दिमाग की सेहत बिगाड़ लेते हैं। अगर दिमाग कमजोर हो तो तरह-तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।...
प्रतीकात्मक तस्वीर

स्वस्थ और तेज दिमाग की चाहत हर किसी की होती है। कई बार हम अपनी कुछ लापरवाहियों की वजह से भी अपने स्वस्थ दिमाग की सेहत बिगाड़ लेते हैं। अगर दिमाग कमजोर हो तो तरह-तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।  इसके लिए क्या करें जानकारी देता आलेख :

दिमाग को तेज करने की बात हो या तंदुरुस्त रखने की, आमतौर पर बादाम खाने की सलाह दी जाती है। मगर दिमाग को स्वस्थ रखने के लिए उसे ज्यादा से ज्यादा व्यस्त रखना भी बेहद जरूरी है। खासतौर पर रात को सोने से पहले हमें  दिमाग को सुकून प्रदान करने के लिए उसे किसी न किसी गतिविधि में व्यस्त कर देना चाहिए। व्यस्तता दिमाग की सेहत के लिए किसी नायाब जड़ी-बूटी से कम नहीं होती। दिमाग का जितना प्रयोग होता है, यह उतना ही सक्रिय होता चला जाता है।

कोई वाद्य बजाएं 
वाद्य बजाकर भी दिमाग के तमाम हिस्सों के बीच मजबूत संबंध विकसित किया जा सकता है। अगर आप संगीत के शौकीन हैं तो दिनभर के सभी कार्य करने के बाद रात में कुछ वक्त वाद्य बजाने के लिए जरूर निकालें। दरअसल, संगीत श्रवण से लेकर वाद्य पर उंगलियां फिराने तक हर गतिविधि दिमाग के तमाम हिस्सों में आपसी तालमेल को और मजबूत बनाने का काम करती है।

अच्छी नींद लें 
जब आप सोते हैं, तो शरीर दिमाग से टॉक्सिन की सफाई कर देता है। अगर आप अपने मस्तिष्क की हिफाजत करना चाहते हैं तो रात को पूरी नींद अवश्य लें। 

पैरों की करें मसाज 
रात में सोने से पहले पैरों को अच्छी तरह से धोएं और फिर सरसों के तेल से उनकी मसाज करें। इससे सिर और दिमाग में रक्त संचार बेहतर होता है।

पसंदीदा गाने सुनें 
दिनभर की दौड़भाग के बाद कुछ देर अपनी पसंद के गाने अवश्य सुनें। संगीत से तनाव का स्तर कम होता है, किसी काम को करने के लिए हम ऊर्जावान महसूस करते हैं। 

नकारात्मक सोच से बचें 
सोने से पहले किसी भी तरह के नकारात्मक विचार को खुद से दूर रखें। ऐसे समय में किताबें पढ़ें, जो दिमागी कसरत के लिए बेहद जरूरी हैं। इससे नींद भी जल्दी आती है।

रात में शारीरिक कसरत करने से बचें 
सोने के कुछ घंटे पहले और खाना खाने के बाद सैर पर अवश्य जाएं, लेकिन शारीरिक कसरत करने से बचें। रात में थोड़ी देर ध्यान करें। इसमें सांसों से संबंधित व्यायाम करें।

मोबाइल से दूर रहें 
रात को सोने के एक घंटा पहले मोबाइल को खुद से थोड़ी दूरी पर रख दें, अच्छी नींद आएगी।

पिक्चर पजल बनाएं  
पिक्चर ब्लॉक्स को जोड़ने में हमारे मस्तिष्क का भरपूर इस्तेमाल होता है। इसके अलावा चीजों को समझने की क्षमता में भी बढ़ोतरी होती है। रोजाना कुछ वक्त पजल जरूर सुलझाने चाहिए।

तेज होगा दिमाग, इनका करें सेवन
दालचीनी 
कहने को दालचीनी एक मसाला है, लेकिन यह जड़ी-बूटी की श्रेणी में भी है। रात को सोने से पहले एक चुटकी दालचीनी पाउडर को शहद के साथ मिलाकर खाएं। इससे मानसिक तनाव दूर होगा और दिमाग तेज होगा। 

अजवाइन की पत्तियां 
अजवाइन की पत्तियों में भरपूर एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं, जो दिमाग के लिए एक औषधि की तरह काम करते हैं। अजवाइन, गिलोय और लौंग को मिलाकर खाने से दिमाग से जुड़ी सभी परेशानियां दूर होती हैं और वह तेज होता है।  

जायफल 
जायफल से दिमाग को काफी ताकत मिलती है। दूध में चुटकी भर जायफल पाउडर डालकर सेवन करें। इससे भूलने की बीमारी नहीं होगी।
बादाम, मिसरी और दखनी मिर्च : रोजाना खाली पेट पांच दाने मिसरी, पांच दाने बादाम और पांच दाने दखनी मिर्च खाने से भी मस्तिष्क तीव्र गति से चलने लगता है, उसकी सेहत सुधरती है।

तुलसी 
तुलसी में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट से मस्तिष्क और हृदय में रक्त प्रवाह सही तरीके से होता है। इससे दिमाग की शक्ति तेज होती है। इसलिए रोजाना तुलसी का सेवन जरूर करें। 

काली मिर्च 
काली मिर्च में पाया जाने वाला पेपरिन बीटा शरीर में इंडोरफिन्स का स्तर बढ़ाता है, जो दिमाग और शरीर की कोशिकाओं को आराम देता है। इससे दिमाग तेज होता है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें