स्मार्ट पड़ताल: सांसद जी, जरा अपनी गलियां भी देख लें

Malay, Last updated: 03/05/2019 06:22 PM IST
पाटलीपुत्र और पटना साहिब लोक सभा क्षेत्र के  सांसद (रामकृपाल यादव व शत्रुघ्न सिंह) के घरों के आसपास की पड़ताल की गई तो तस्वीर दूसरे मोहल्लों से इतर नहीं थी। गंदगी, दुर्गंध, उलझे बिजली के तार...
सांसदों के मोहल्ले तक का विकास नहीं कर पाया पटना नगर निगम

पाटलीपुत्र और पटना साहिब लोक सभा क्षेत्र के  सांसद (रामकृपाल यादव व शत्रुघ्न सिंह) के घरों के आसपास की पड़ताल की गई तो तस्वीर दूसरे मोहल्लों से इतर नहीं थी। गंदगी, दुर्गंध, उलझे बिजली के तार विकास की हकीकत बयां कर रहे हैं।

पाटलिपुत्र
राजधानी का गोरियाटोली गली आम गली नहीं है। इसी गली में केंद्रीय ग्राम ीण विकास और भूमि संसाधन राज्य मंत्री व पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र के सांसद रामकृपाल यादव रहते हैं। इनके घर पर पीएस 318 (होर्डिंग नंबर) का बार्ड लगा हुआ है। स्टेशन गोलंबर से महज 200 मीटर की दूरी पर फ्लाईओवर के नीचे से रेलवे ट्रैक की ओर जाने वाली इस गली का हाल भी कुछ ठीक नहीं है। बिजली के उलझे तार, संकरी गलियां, गली में फैला कूड़ा-कचरा और उठती बदबू यहां की पहचान बन चुकी है।

क्या विकास हुआ
बिजली

रामकृपाल यादव के घर के सामने बिजली के तार का जाल। लटकते तार कह रही कहानी।

पानी
सरकारी हैंडपंप है, पर पानी की गुणवत्ता ठीक नहीं, निजी बोरिंग के भरोसे ही व्यवस्था।

सड़क
संकरी गलियां ऐसी कि सामने से कोई बाइक आ जाए तो बचना मुश्किल।

अन्य महत्वपूर्ण मुद्दे
घर के पीछे गली में कूड़ा, उठती दुर्गंध के कारण निकलना मुश्किल।
आवास के पास ही खटाल का संचालन, गोबर का अंबार।
पूरी धोबी गली का बुरा हाल, कचरा इतना कि निकल नहीं सकते।
भिनभिनाती मक्खियां और उठती दुर्गंध की समस्या अब भी बरकरार।

पटना साहिब
लोकसभा क्षेत्र पटना साहिब के सांसद और फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा का घर नाला रोड के डी ब्लॉक में है। कदमकुआं क्षेत्र के इस इलाके की स्थिति भी दूसरे मोहल्ले की तरह है। दो बार से सांसद शत्रुघ्न सिंह ही चुने जा रहे हैं। इनकी गली को भुवनेश्वर सिन्हा वाली गली कहा जाता है। सांसद जी के घर से 10 कदम की दूरी पर ड्रेनेज लाइन का चैंबर ध्वस्त है। सीवरेज लाइन बनाने के नाम पर तीन माह से गलियों को खोदकर छोड़ दिया है। इसकी वजह से निगम की कचरा कलेक्शन वाली गाड़ी भी नहीं पहुंच रही है।

क्या विकास हुआ
बिजली

घर के सामने ही बिजली के खंभों पर तारों का जाल परेशानी करने वाला है।

पानी
डी ब्लॉक की एक नंबर गली में  पानी के लिए पाइपलाइन नहीं है। हैंडपंप भी नहीं है।

सड़क
मुख्य खदेरन सिंह मार्ग तीन माह से खोद कर छोड़ दिया गया है। आवागमन प्रभावित।

अन्य महत्वपूर्ण मुद्दे
नियमित सफाई नहीं होती, कूड़ा-कचरा फैला रहता है।
आबादी के बीच खटाल का संचालन, इससे गंदगी और बढ़ रही है।
जल निकासी की व्यवस्था नहीं, सड़क पर गंदा पानी फैला रहता है।
गलियों में कब्जा करके पक्का निर्माण, आने-जाने में हो रही परेशानी

नियमित होती है सफाई
गोरियाटोली साफ मोहल्ला है। यहां किसी तरह की गंदगी नहीं रहती। नियमित रूप से सफाई होती है। यदि बाद में कोई सड़क पर फेंकता है तो उनकी जानकारी लेकर मना किया जाता है।
-विनय कुमार, डिप्टी मेयर 

हर दिन सुबह में कूड़ा कलेक्शन के लिए ठेला आता है। लेकिन, इसके जाते ही लोग गंदगी फैलाना शुरू कर देते हैं। 
-मो. अनवर

काम चलने से परेशानी
नमामि गंगे का कार्य चलने की वजह से कदमकुआं सांसद के मोहल्ले की सड़कें खराब हुई हैं। मोहल्ले में साफ-सफाई नियमित करवाई जा रही है। 
-आशीष कुमार सिन्हा, पार्षद, वार्ड-38

मोहल्ले में सांसद का आवास होने का कोई फायदा नहीं है। यहां की गलियों में गंदगी रहती है। तीन माह से सड़कों का हाल बुरा है। 
-विजय कुमार,  कदमकुआं

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें