स्मार्ट पड़ताल: पटना के गरीब ज्यादा लोकतांत्रिक

Malay, Last updated: Mon, 20th May 2019, 1:05 AM IST
लोकतंत्र के इस महापर्व में गरीबों की भागीदारी ने अमीरों को पछाड़ दिया है। कम आय वालों ने यह साबित कर दिया है कि वह अमीरों से ज्यादा लोकतांत्रिक हैं। उन्हें देश की चिंता है। सरकार बनाने में उनकी...
हिन्दुस्तान स्मार्ट ने पटनासाहिब लोकसभा क्षेत्र के कुछ मोहल्ले ऐसे चुने जहां आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोग रहते हैं।

लोकतंत्र के इस महापर्व में गरीबों की भागीदारी ने अमीरों को पछाड़ दिया है। कम आय वालों ने यह साबित कर दिया है कि वह अमीरों से ज्यादा लोकतांत्रिक हैं। उन्हें देश की चिंता है। सरकार बनाने में उनकी भागीदारी होनी चाहिए। तभी तो गरीबों के बूथों पर मतदान प्रतिशत ज्यादा है।

मतदान के आंकड़े इस बात की गवाही दे रहे हैं कि वोटिंग प्रतिशत में फिसड्डी रहने वाले पटना के गरीब लोकतंत्र के प्रति अपना कर्तव्य समझते हैं। बेडरूम में टीवी पर नजरें टिकाए और बड़ी-बड़ी बातें करने वाले अमीरों से तो गरीब तबका ज्यादा समझदार निकला। उन्होंने देहरी लांघी और मतदान किया है। यही वजह है कि आर्थिक रूप से कमजोर यारपुर के मोहल्लों में 52 प्रतिशत तक मतदान हुआ है, जबकि बोरिंग रोड जैसे पॉश इलाकों में मतदान प्रतिशत 46 पर ही सिमट कर रह गया है। 

अमीरों के मोहल्ले
-आनंदपुरी बोरिंग रोड, गोरखनाथ पथ, रामानंद अपार्टमेंट, हिमगिरी अपार्टमेंट- कुल 1309 मतदाता-46% मतदान
-नीलगिरी अपार्टमेंट, ब्रजकुंज अपार्टमेंट के दोनों ही बूथ- कुल 1288 मतदाता- 46% मतदान 
-मुख्य बोरिंग रोड- पूर्वी और पश्चिमी भाग में कुल 2171 मतदाता- 41.42% मतदान 
-दक्षिणी आनंदपुरी, पश्चिमी आनंदपुरी, दक्षिणी आनंदपुरी निचला भाग- कुल 1962 मतदाता- 41.42% मतदान 

गरीबों के मोहल्ले
-सेंट एमजी हाई स्कूल यारपुर- कहार टोली, जनता रोड- कुल 1172 मतदाता -52.54% मतदान 
-सेंट एमजी हाई स्कूल यारपुर- कमरा नंबर दो (दक्षिणी भाग)- देवी स्थान और यादव लेन जनता रोड, कुल 1126 मतदाता- 52.54% मतदान 
-राइजिंग स्टार पब्लिक स्कूल (डोमखाना के पीछे) यारपुर- हनुमान मंदिर के पास और यारपुर, कुल -1002 मतदाता - 54.54% मतदान 

पड़ताल में सामने आया सच 
हिन्दुस्तान स्मार्ट ने पटनासाहिब लोकसभा क्षेत्र के कुछ मोहल्ले ऐसे चुने जहां आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोग रहते हैं। इसके बाद शहर के कुछ पॉश इलाकों की भी पड़ताल की। यहां से बूथ वार आंकड़े जुटाए। मतदान आंकड़ों के अनुसार यारपुर के सात मोहल्लों के बूथ पर 52.54 प्रतिशत मतदान हुआ। शहर के अन्य स्लम इलाकों में भी वोटिंग प्रतिशत ज्यादा रही। जबकि बोरिंग रोड सहित कई अन्य पॉश इलाकों में तस्वीर उलट गई। आनंदपुरी, इंदिरा गांधी सामुदायिक भवन सहित अन्य बूथों पर 46 फीसदी ही मतदान हुआ है। वहीं बोरिंग रोड, दक्षिणी आनंदपुरी में महज 41.42 फीसदी ही वोट पड़े हैं। यही हाल बुद्धमार्ग और राजेंद्र  नगर क्षेत्र के भी बूथों का रहा। 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें