पटना

सन्नी की मौत का मुख्य आरोपित की तलाश में छापेमारी जारी

Malay, Last updated: 23/04/2020 03:20 PM IST
सन्नी की मौत का मुख्य आरोपित मो. चांद अबतक पुलिस की गिरफ्त से दूर है। खाजेकलां पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए  लगातार छापेमारी कर रही है। इधर, इस मामले में गिरफ्तार किए गए पांच लोगों से पूछताछ के...
bihar police

सन्नी की मौत का मुख्य आरोपित मो. चांद अबतक पुलिस की गिरफ्त से दूर है। खाजेकलां पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए  लगातार छापेमारी कर रही है। इधर, इस मामले में गिरफ्तार किए गए पांच लोगों से पूछताछ के बाद उन्हें जेल भेज दिया गया। वहीं सन्नी की मौत के बाद नून का चौराहा, शीशा का सिपहर इलाके में व्याप्त तनाव को दूर करने के लिए बुधवार को शांति की समिति की बैठक आयोजित की गयी। साथ ही इलाके में पुलिस बल की तैनाती भी कर दी गयी। शांति की समिति की बैठक में एएसपी मनीष कुमार, खाजेकलां थानाध्यक्ष सनोवर खां ने सदस्यों से इलाके में आपसी भाईचारा कायम रखने और शांति बनाए रखने की अपील की। बैठक में वार्ड पार्षछ आनंद मोहन, राजेश राय, बलराम चौधरी, महमूद कुरैशी, अंजनी पटेल, परवेज अहमद शामिल हुए। 

घटना से पहले सन्नी से उलझा था आरोपित: सन्नी के भाई दिलीप गुप्ता के बयान पर दर्ज एफआईआर में सूचना दी गयी है कि घटना से थोड़ी देर पहले आरोपित के परिवार और सन्नी के बीच कहासुनी हुई थी। दिलीप का कहना है कि कुछ लोग घर के बाहर बैठे थे, उनको देखकर सन्नी समझाने गया था कि आपलोग लॉकडाउन का पालन करिए और अपने घर में जाइए। इसी बात पर आरोपित के घर वाले सन्नी से उलझ गए। इसी दौरान मो. हसनैन ने अपने बेटे चांद तथा अंजुम को कहा कि रोज-रोज का झगड़ा खत्म कर दो। 

इस मामले में मो. हसनैन, उसकी पत्नी शाहजहां, बेटा अबुल नासिर, अंजुम और जैनब हाशमी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। चांद की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। 
- सनोवर खां, थानाध्यक्ष

अन्य खबरें