मौका: अब घर बैठे ही खुलेगा सुकन्या समृद्धि योजना में खाता, जानें क्या करना होगा

Smart News Team, Last updated: Wed, 10th Jun 2020, 2:29 PM IST
  • अगर आपके घर में बेटी है और आप उसके भविष्य को लेकर चिंतित हैं तो यह खबर आपके लिए ही है। सरकारे बेटियों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए सुकन्या समृद्धि योजना चला रही है और अच्छा बात यह है कि अब घर-घर जाकर यह खाता खुलेगा।
Sukanya Samriddhi Yojana

पटना। वरीय संवाददाता

अगर आपके घर में बेटी है और आप उसके भविष्य को लेकर चिंतित हैं तो यह खबर आपके लिए ही है। सरकारे बेटियों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए सुकन्या समृद्धि योजना चला रही है और अच्छा बात यह है कि अब घर-घर जाकर यह खाता खुलेगा। दरअसल, बेटियों का भविष्य सुरक्षित करने के लिए डाक विभाग की ओर से सुकन्या समृद्धि योजना में खाता खोलने के लिए स्पेशल अभियान शुरू हो गया है। बिहार डाक विभाग ने बड़े स्तर पर सुकन्या खाता खोलने के लिए 11 जून 2020 के बीच सुकन्या समृद्धि खाता खोलो अभियान शुरू किया है।

इस अभियान के तहत, डाक विभाग गांव-गांव और घर-घर पहुंचकर सुकन्या समृद्धि खाता खोलेगी। इस योजना में खाता खुलने से 14 साल तक 12 हजार 500 रुपये प्रतिमाह जमा करने पर 64 लाख रुपये की परिपक्वता मिलती है। 

पोस्ट मास्टर जनरल पूर्वी प्रक्षेत्र अनिल कुमार के मुताबिक, सुकन्या खाता खोलना बहुत ही सहज और सरल है और 10 साल से कम आयु के किसी भी बच्ची का किसी भी डाकघर में खाता खोला जा सकता है। 

सुकन्या समृद्धि योजना की खास बातें

खाता खोलने की न्यूनतम राशि 250 रुपये है। एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम 250 रुपये और अधिकतम 1,50,000 रुपये 50 के गुणक में राशि जमा की जा सकती है। सुकन्या समृद्धि खाते में जमा राशि का 7.6 प्रतिशत वार्षिक चक्रवृद्धि ब्याज दर से पैसा मिलता है। एक परिवार के प्रथम दो बच्चियों का ही खाता खुल सकता है और जुड़वां होने के स्थिति में तीन बच्चियों का खाता खोला जा सकता है।

इन दस्तावेजों की होती है जरूरत

बच्ची का जन्म प्रमाण पत्र, नगर निगम, ग्राम प्रमुख और वार्ड कमिश्नर, मुखिया, सरपंच, हॉस्पिटल जहां बच्ची का जन्म हुआ है या स्कूल की ओर जारी पहचान पत्र, आधार व पैन कार्ड की जरूरत होती है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें