बिहार में चौंकाने वाले आंकड़ें! लड़कों से ज्यादा लड़कियां चबाती हैं तंबाकू

Sumit Rajak, Last updated: Wed, 3rd Nov 2021, 8:29 AM IST
  • बिहार में युवा लड़कों से ज्यादा लड़कियां तंबाकू का सेवन कर रही है. 13 से 15 आयु वर्ग के लड़के 6.6 फ़ीसदी जबकि लड़कियां 8 फ़ीसदी तंबाकू का सेवन कर रही है. बिहार में 7.3 फिसदी छात्र/छात्राएं तंबाकू का सेवन करते हैं. राज्य स्वास्थ्य समिति परिसर स्थित सभागार में आयोजित कार्यक्रम में श्री पांडेय ने कहा कि बिहार को तंबाकू मुक्त बनाने की दिशा में सभी के सहयोग की जरूरत है.
प्रतीकात्मक फोटो

पटना. बिहार में युवा लड़कों से ज्यादा लड़कियां तंबाकू का सेवन कर रही है. 13 से 15 आयु वर्ग के लड़के 6.6 फ़ीसदी जबकि लड़कियां 8 फ़ीसदी तंबाकू का सेवन कर रही है. बिहार में 7.3 फिसदी छात्र/छात्राएं तंबाकू का सेवन करते हैं. राज्य स्वास्थ्य समिति परिसर स्थित सभागार में आयोजित कार्यक्रम में श्री पांडेय ने कहा कि बिहार को तंबाकू मुक्त बनाने की दिशा में सभी के सहयोग की जरूरत है.

बिहार में युवा लड़कों से ज्यादा लड़कियां तंबाकू का सेवन कर रही है. 13 से 15 आयु वर्ग के लड़के 6.6 फ़ीसदी जबकि लड़कियां 8 फ़ीसदी किसी न किसी रूप में तंबाकू का सेवन कर रही है. बिहार में 7.3 फिसदी छात्र/छात्राएं किसी न किसी रूप में तंबाकू का सेवन करते हैं. हालांकि राष्ट्रीय औसत 8.5 फ़ीसदी है. ग्लोबल यूथ टुबैको सर्वे के तहत बिहार से संबंधित रिपोर्ट मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने जारी किया. इस रिपोर्ट के अनुसार तंबाकू सेवन के दुष्परिणामों के प्रति जागरूकता को लेकर शहरी क्षेत्रों के विद्यालयों में सौ फिसदी तो ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यालयों में 90 फ़ीसदी से ज्यादा बच्चों को जानकारी है.

राज्य स्वास्थ्य समिति परिसर स्थित सभागार में आयोजित कार्यक्रम में श्री पांडेय ने कहा कि बिहार को तंबाकू मुक्त बनाने की दिशा में सभी के सहयोग की जरूरत है. 2010 में बिहार में 53.5 फ़ीसदी लोग तंबाकू उत्पादों का सेवन करते थे जो कि 2018 में घटकर 25.9 फ़ीसदी हो गई है. तंबाकू के ओवरऑल सेवन में कमी आई है. 19 जिले तंबाकू मुक्त घोषित हो चुके हैं. 

स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत ने ग्लोबल टुबैको सर्वे में लड़कों से ज्यादा लड़कियां में तंबाकू उत्पादन की स्वीकार्यता पर अचरण व्यक्त किया. इसके साथ ही कहा कि रिपोर्ट के आधार पर आगे की नीति निर्धारित करने में सहायक सिद्ध होगी. इस कार्यक्रम में अपर मुख्य कार्यपालक निदेशक अनिमेश पराशर, मुंबई के डॉक्टर नागराजन सहित अन्य प्रमुख लोग शामिल हुए.

कोहरे के कारण 15 नवंबर से रात की कई उड़ाने बंद, चंडीगढ़-पटना की नई फ्लाइट शुरू, देखें शेड्यूल

देश के प्रति वर्ष कैंसर से 27 करोड़ लोग पीड़ित होते हैं

 राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक संजय कुमार सिंह ने कहा कि 27 करोड़ लोग देश के प्रति वर्ष कैंसर से पीड़ित होते हैं. उन्होंने तंबाकू नियंत्रण को लेकर किए गए कार्यों की जानकारी दी सीड्स के कार्यपालक निर्देशक दीपक मिश्रा ने कहा कि बच्चों व युवाओं को तंबाकू के दुष्परिणामों से बचने के लिए कोटपा कानून में संशोधन की आवश्यकता है. सर्वे रिपोर्ट बिहार में लड़कों से ज्यादा लड़कियां तंबाकू का सेवन कर रही है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें