सुशांत सिंह सुसाइड केस: पटना FIR को मुंबई ट्रांसफर कराने SC गईं रिया चक्रवर्ती

Smart News Team, Last updated: Wed, 29th Jul 2020, 9:29 PM IST
  • सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले में अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती के खिलाफ पटना के राजीव नगर थाने में पिता ने एफआईआर दर्ज कराई है जिसे मुंबई ट्रांसफर कराने के लिए रिया ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल की है.
सुशांत सिंह केस: FIR के बाद SC पहुंची रिया चक्रवर्ती, मुंबई केस ट्रांसफर की मांग

सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले में आरोपी अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल की है. उन्होंने पटना में दर्ज मामले को मुम्बई में ट्रांसफर करने की अर्जी लगाई है. सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ मंगलवार को पटना में एक एफआईआर दर्ज करवाई. पटना पुलिस की टीम मुंबई जाकर मामले की जांच शुरू कर चुकी है. इसी के बाद रिया ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल की है.

सुशांत के पिता ने रिया के खिलाफ आरोप लगाए हैं कि रिया ने सुशांत से करोड़ों रुपए हड़पे हैं और उसे दिमागी रूप से बीमार किया था. उन्होंने ये भी आरोप लगाया है कि रिया ने सुशांत को आत्महत्या के लिए उकसाया था. बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत ने लगभग डेढ़ महीने पहले मुंबई स्थित अपने फ्लैट में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी.

सुशांत सिंह के वकील का दावा- मुंबई पुलिस चाहती थी एफआईआर में इन लोगों के नाम

एक तरफ रिया ने केस को मुंबई में ट्रांसफर होने की मांग की है वहीं दूसरी तरफ सुशांत के पिता के वकील विकास सिंह ने कहा है कि सुशांत के परिवार ने पहले मुंबई में एफआईआर दर्ज करवानी चाही थी लेकिन मुंबई पुलिस ने एफआईआर दर्ज नहीं की. उन्होंने दावा किया है कि मुंबई पुलिस ने एफआईआर में बॉलीवुड केे कुछ बड़े निर्माताओं के नाम लिखवाने चाहे थे जिससे केस अलग दिशा में चला जाता.

सुशांत सिंह केस: पिता की FIR में बॉलीवुड नेपोटिज्म नहीं, रिया चक्रवर्ती पर जोर

वहीं बिहार पुलिस की जांच शुरू होने के बाद बॉलीवुड में हड़कंप मचा हुआ है. कहा जा रहा है कि सुशांत के दो मोबाइल नंबरों की जांच होगी की उन्होंने किससे कब बात की. ये भी पता किया जाएगा की सुशांत ने आत्महत्या से पहले आखिरी बार किससे बात की और किसे मैसेज किए. साथ ही सुशांत के बैंक खातों की जांच होगी और उससे जिसे भी रकम भेजी गई उन सभी से पूछताछ होगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें