बिहार चुनाव में तेजस्वी सूर्या की एंट्री, बोले- बुद्ध की कर्मभूमि आना सौभाग्य

Smart News Team, Last updated: Mon, 28th Sep 2020, 6:58 PM IST
  • बीजेपी के युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी यादव बिहार विधानसभा चुनावों में भाजपा का प्रचार करने और युवाओं में जोश भरने के लिए इन दिनों बिहार दौरे पर हैं. सोमवार को पटना में आयोजित युवा संवाद कार्यक्रम में उन्होंने युवाओं में जोश भरते हुए बिहार की ऐतिहासिक गाथा का गुणगान किया.
पटना में चुनाव प्रचार के दौरान युवा संवाद कार्यक्रम में बोलते तेजस्वी सूर्या

 पटना. बिहार विधानसभा चुनावों में युवाओं में जोश भरने के लिए भारतीय जनता युवा मोर्चा के नवनियुक्त राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद तेजस्वी सूर्या ने युवा संवाद कार्यक्रम में बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. इस कार्यक्रम में उनके साथ बिहार भाजपा के चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस भी साथ थे.तेजस्वी सूर्या ने कहा कि भगवान बुद्ध की कर्म भूमि बिहार आने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है.

इस दौरान तेजस्वी सूर्या ने कहा कि बिहार वह राज्य है जो भारतीय सभ्यता का पालना रहा है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि प्राचीन काल के लिच्छवी गणराज्य से लेकर आपातकाल के विरुद्ध संघर्ष तक बिहार ने भारत और विश्व को लोकतंत्र का महत्व समझाया‌. गुरु गोविंद सिंह की इस धरती पर आना के लिए मैं अपना सौभाग्य समझता हूं. जनक और बुद्ध महावीर का जनकल्याण और करुणा का संदेश हो या चाणक्य का एक भारत श्रेष्ठ भारत का भाव, बिहार इस देश की गौरव गाथा सुनाता है. बिहार की गाथा अभी बाकी है, कई पन्ने लिखे जाने हैं जिसे हम युवाओं को करना है.

BJP की जीत के लिए तेजस्वी सूर्या-देवेंद्र फडणवीस भरेंगे कार्यकर्ताओं में जोश

युवा संवाद कार्यक्रम में चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि आज बिहार में किसी भी गांव में चले जाइए, इस सरकार में 20-22 घंटे बिजली दूरदराज के इलाकों में रहती है. शहरों में, कस्बों में हर जगह बिजली मिलती है. इस दौरान बिहार के रास्तों में हमने परिवर्तन देखा है.

बिहार चुनाव: EC ने राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों के लिए जारी की गाइडलाइंस

इससे पहले तेजस्वी ने अपने टि्वटर हैंडल से एक ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा कि आज मुझे सामाजिक समता और समरसता का उद्घोष करने वाले बसवण्णा की पवित्र धरती कर्नाटक से भगवान बुद्ध की कर्म भूमि बिहार आने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें