फ्लाइट से बेंगलुरु जाने के लिए पटना एयरपोर्ट पहुंची थी युवती, सैंडल ने उड़ाए सबके होश

Sumit Rajak, Last updated: Sat, 29th Jan 2022, 4:34 PM IST
  • पटना के जयप्रकाश नारायण इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर अजीबोगरीब स्थिति सामने आई, जब सीआईएसएफ के जवानों और अधिकारियों ने एक युवती के हैंडबैग में रखी सैंडल से जीपीएस ट्रैकर बरामद किया. जांच में पता चला कि सैंडल में बैटरी युक्त जीपीएस और सिम कार्ड तो एयरपोर्ट पर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. इसके बाद उसे हिरासत में ले लिया गया.
प्रतीकात्मक फोटो

पटना. पटना एयरपोर्ट पर शुक्रवार को फ्लाइट पकड़ने के लिए आई एक युवती की सैंडिल में बैटरी युक्त जीपीएस और सिम कार्ड मिलने से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. सूचना मिलते ही आतंकी निरोधक दस्ता (एटीएस), स्पेशल ब्रांच, आइबी सहित राष्ट्रीय सुरक्षा जैसी एजेंसियों के अधिकारी उक्त युवती से पूछताछ करने हवाई अड्डा थाना पहुंच गए. पुलिस अधिकारियों को आशंका लगाया कि युवती के संबंध आतंकियों से हो सकते हैं. वही युवती के मोबाइल से मिले नंबरों की लोकेशन से सचिवालय एएसपी काम्या मिश्रा के नेतृत्व में एक टीम विभिन्न इलाकों में छापेमारी कर रही है. एसएसपी डा. मानवजीत सिंह ने बताया कि उससे पूछताछ करने के लिए कई एजेंसियों के अधिकारी आए हैं. फिलहाल मामले की छानबीन की जा रही है.

युवती ने अपना परिचय 20 वर्षीय सनौव्वर खान बताया है. पूछताछ में उसने कहा कि वह अविवाहित है. पटना के सुलतानगंज इलाके में मां के साथ रहती है. जांच के लिए पुलिस की एक टीम उसके घर गई है. युवती ने बताया कि उसके सौतेले पिता बेंगलुरु में रहते हैं. वह उन्हीं से मिलने वहां जा रही थी. उसने इंडिगो की फ्लाइट से बेंगलुरु के लिए टिकट बुक कराई है, 

खुशखबरी! बिहार के नौवीं से 12वीं तक के छात्रों को नीट व जेईई के लिए मुफ्त मार्गदर्शन

हवाई अड्डा थानाध्यक्ष अरुण कुमार ने बताया कि शुक्रवार की दोपहर करीब दो बजे युवती लोकनायक जयप्रकाश नारायण एयरपोर्ट पर बेंगलुरु की फ्लाइट लेने आई थी. चेकिंग के दौरान वह सिक्योरिटी होल्ड एरिया में गई. वहां सीआइएसएफ के जवानों ने सुरक्षा जांच के दौरान उसके हैंड बैग को स्कैन किया. स्कैनिंग में उसके बैग में संदिग्ध सामान होने की जानकारी मिली. बैग को खुलवा कर देखा गया तो उसमें एक जोड़ी सैंडिल थी. सैंडिल के सोल में जीपीएस युक्त डिवाइस में सिम लगा था. जिसमें मशीन लगी थी, उसे सिलकर छिपा दिया गया था. जब इसके बारे में उससे पूछा गया तो उसने कुछ भी स्पष्ट नहीं बताया. जिसके बाद घटना की सूचना वरीय अधिकारी को देने के साथ छानबीन के लिए युवती को पुलिस के हवाले कर दिया.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें