इस बार देर से आएगा बिहार विधानसभा चुनाव 2020 का रिजल्ट, जानिए वजह

Smart News Team, Last updated: 02/11/2020 02:33 PM IST
  • कोरोना काल में हो रहे बिहार विधानसभा चुनावों के नतीजों में इस बार देरी देखने को मिल सकती है. कोरोना संक्रमण के चलते बूथों की संख्या में इजाफा किया गया है. ऐसे में मतगणना में देरी तय है.
बिहार विधानसभा चुनाव 2020

पटना: बिहार विधानसभा का चुनाव परिणाम इस बार देर से आएगा. कोरोना काल के चलते बूथों की संख्या बढ़ गई है, लेकिन मतगणना टेबल की संख्या पहले जैसी ही रहेगी. ऐसे में मतगणना में देरी तय है. पटना में करीब पचास राउंड तक मतगणना चलेगी. बता दें कि पहले 28 से 30 राउंड में मतगणना समाप्त हो जाती थी. मतगणना 10 नवंबर को होगी.

पटना जिले के 14 विधानसभा की मतगणना एएन कॉलेज में होगी. पटना में इस बार 2414 बूथ ज्यादा बनाए गए हैं. पिछले चुनाव तक पटना जिले के 14 विधानसभा क्षेत्रों में पहले करीब 4620 मतदान केंद्र बनाए जाते थे. कोरोना काल के चलते भारत निर्वाचन आयोग ने 1000 से अधिक मतदाता होने पर सहायक बूथ बनाने का निर्देश दिया था. इस आदेश के बाद पटना जिला प्रशासन ने जिले में 2414 और अतिरिक्त मतदान केंद्र बना दिए. इस प्रकार पटना जिले में अब मतदान केंद्रों की संख्या बढ़कर 7034 हो गई है.

कुम्हरार विधानसभा सीट: क्या बीजेपी लगाएगी जीत का हैट्रिक या बदलेंगे समीकरण ?

डीएम कुमार रवि ने बताया कि मतगणना में टेबल की संख्या 14 होगी लेकिन राउंड बढ़ जाएगा. पहले 28 से 30 राउंड में मतगणना समाप्त हो जाती थी लेकिन इस बार मतदान केंद्रों की संख्या अधिक होने के कारण राउंड भी बढ़ गए है. इसीलिए परिणाम भी देर से आएगा.

पटना: दूसरे चरण के मतदान के लिए रवाना हुईं EVM मशीनें, 9 सीटों पर होगा मतदान

बता दें कि, जितने मतदान केंद्र ज्यादा बनाए गए हैं, उतनी ही ईवीएम की संख्या भी बढ़ गई है. पिछले चुनाव की तुलना में प्रत्याशियों की संख्या भी ज्यादा है. इस कारण कई विधानसभा में दो बैलेट यूनिट का इस्तेमाल किया जा रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें