पटना ट्रैफिक पुलिस बॉडी वार्न कैमरा से लैस, स्पीड गन का भी इस्तेमाल शुरू, होगा यह फायदा

ABHINAV AZAD, Last updated: Sat, 25th Dec 2021, 12:32 PM IST
  • पटना, नालंदा समेत कई जिलों में ट्रैफिक पुलिस के बाडी वार्न कैमरा से लैस होने के बाद वाहन चेकिंग और चालान काटे जाने की पारदर्शिता आएगी. साथ ही यातायात ट्रैफिक की गतिविधियों और वाहन चालक से बातचीत को उनके शरीर पर लगा कैमरा ही रिकार्ड करेगा.
(प्रतीकात्मक फोटो)

पटना. बिहार के नालंदा समेत कई जिलों की ट्रैफिक व्यवस्था में बड़ा बदलाव हुआ है. ट्रैफिक पुलिस अब बाडी वार्न कैमरा से लैस हो गई है. दरअसल, पुलिस की वर्दी में ही कैमरा लगा है, जिसको पहनकर ट्रैफिक पुलिस चालान काटेगी. ट्रैफिक आइजी एमआर नायक के मुताबिक, इस नई व्यवस्था से वाहन चेकिंग और चालान काटे जाने की पारदर्शिता आएगी. उन्होंने बताया कि यातायात पुलिस की गतिविधियों और वाहन चालक से बातचीत को उनके शरीर पर लगा कैमरा ही रिकार्ड करेगा. साथ ही ट्रैफिक पुलिस ने स्पीड गन का भी इस्तेमाल शुरू कर दिया है. दरअसल, स्पीड गन का इस्तेमाल गाडिय़ों की स्पीड मापने के लिए किया जाता है.

इससे पहले आइजी ट्रैफिक ने 12 जिलों के ट्रैफिक डीएसपी के साथ बैठक की. इस बैठक में आइजी ट्रैफिक ने इस बाबत आवश्यक दिशा-निर्देश दिया था. दरअसल, यातायात पुलिस को हाईटेक बनाने की के लिए बाडीवार्न कैमरे से लैस किया जा रहा है. हालांकि अभी फिलहाल सीमित तादाद में दिया गया है, लेकिन बाद में इसकी संख्या बढ़ा दी जाएगी. साथ ही कैमरे को कंट्रोल रूम से लिंक कर दिया जाएगा. वहीं लाइव वीडियो को कंट्रोल में बैठे भी देख सकेंगे. जबकि इसके अलावा ट्रैफिक पुलिस किससे क्या बात कर रही है, इसपर भी नजर रखी जा सकेगी.

पटना की होगी कायापलट, 9 मॉडर्न बस स्टॉप का 15 जनवरी के बाद शुभारंभ

साथ ही ट्रैफिक पुलिस स्पीड गन के जरिए दूर से आ रही गाड़ी की स्पीड पता कर लेगी. यदि गाड़ी ओवर स्पीड है, तो उसके चालक को जुर्माना भरना पड़ेगा. बताते चलें कि बिहार के नालंदा समेत कई जिलों की ट्रैफिक पुलिस अब बाडी वार्न कैमरा से लैस हो गई है. दरअसल, पुलिस की वर्दी में ही कैमरा लगा है, जिसको पहनकर ट्रैफिक पुलिस चालान काटेगी. इस नई व्यवस्था से वाहन चेकिंग और चालान काटे जाने की पारदर्शिता आएगी. यातायात पुलिस की गतिविधियों और वाहन चालक से बातचीत को उनके शरीर पर लगा कैमरा ही रिकार्ड करेगा. वहीं कैमरे को कंट्रोल रूम से लिंक कर दिया जाएगा. वहीं लाइव वीडियो को कंट्रोल में बैठे भी देख सकेंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें