पटना: ट्रैफिक नियम‌‌ न मानने पर जुर्माने के साथ ही डेढ़ घंटे की लेनी होगी क्लास

Smart News Team, Last updated: 13/01/2021 10:46 AM IST
ट्रैफिक नियमों का पालन न करने पर जुर्माने के साथ ही नियमों के पाठ भी डेढ़ घंटे(क्लास) पढ़ाया जाएगा. पटना में पहले से ही यह व्यवस्था है. अब बिहार के सभी जिलों में ऐसा होगा. सड़कों हादसों में कमी लाने के लिए यातायात नियमों को उल्लंघन करनेवालों के साथ पुलिस को सख्ती से पेश आने की हिदायत दी गई है.
पटना: ट्रैफिक नियम‌‌ न मानने पर जुर्माने के साथ ही डेढ़ घंटे की लेनी होगी क्लास, प्रतीकात्मक फोटो

पटना. ट्रैफिक नियमों का पालन न करने पर जुर्माने के साथ ही नियमों के पाठ 1.5 घंटे पढ़ाया (क्लास) जाएगा. पटना में पहले से ही यह व्यवस्था है. अब बिहार के सभी जिलों में ऐसा होगा. खासकर उन वाहन चलाने वालों को जिनको कि यातायात नियमों की जानकारी नहीं है, उन्हें डीटीओ ऑफिस के अधिकारी और कर्मचारी ट्रैफिक के नियम समाझाएंगे. 

हाल ही में राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार, यूनिसेफ और सीआईडी की ओर से सड़क दुर्घटना में कमी लाने के लिए कई दिनों तक वेबीनार का आयोजन किया था. रेंज आईजी-डीआईजी के साथ जिलों के एसपी, एसडीपीओ और थाना प्रभारी इसमें जुड़े थे. 

बिहार में 15 जनवरी से हड़ताल करेंगे ऑटो-ट्रक चालक, 26 को किसान आंदोलन का समर्थन

सड़कों पर होने वाले एक्सिडेंट में कमी लाने के लिए यातायात नियमों को उल्लंघन करनेवालों के साथ सख्ती से पेश आने की हिदायत दी गई है. इसी के तहत जुर्माना के पैसे वसूलने के बाद चालकों को ट्रैफिक नियमों का पाठ पढ़ाने को कहा गया है. यह क्लास 1.5 घंटे की होगी. 

बिहार पुलिस की एंटी राएट फोर्स को रैफ की तरह मिल रहा प्रशिक्षण, 4000 बॉडी प्रोटेक्टर खरीदे गए

आपको बता दें कि साल 2019 से यातायात नियमों में कई संसोधन किए गए हैं. इसमें दंड के तौर पर कम्यूनिटी सर्विस को भी जोड़ा गया है. इसमें ट्रैफिक नियमों को तोड़ने वाले समाज सेवा से काम कराया जा सकता है. बिहार में हर रोज सड़क हादसों से करीब 20 लोगों की जान चली जाती है. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें