ट्रांसपोर्ट यूनियन का ऐलान- बिना कोविड बीमा गारंटी चुनाव में नहीं देंगे वाहन

Smart News Team, Last updated: 25/08/2020 03:12 PM IST
  • ट्रांसपोर्ट यूनियन फेडरेशन ने ऐलान किया है कि बिना कोविड बीमा गारंटी के चुनाव में वाहन नहीं देंगे. ट्रांसपोर्ट यूनियन ने सरकार व चुनाव आयोग के समक्ष मांग रखी है.
ट्रांसपोर्ट यूनियन का ऐलान- बिना कोविड बीमा गारंटी चुनाव में नहीं देंगे वाहन

पटना. बिहार स्टेट ट्रांसपोर्ट फेडरेशन ने ऐलान करते हुए कहा कि बिना बीमा गारंटी के बिहार विधानसभा चुनाव कार्य में वाहन नहीं मिलेंगे. उन्होंने मांग की है कि बस व अन्य वाहनों के चालक-कंडक्टर को 10-10 लाख रुपये का कोविड बीमा कवर होना चाहिए. साथ ही वाहनों की मुआवजा राशि में 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी होना चाहिए.

फेडरेशन ने राज्य सरकार व केंद्रीय चुनाव आयोग को पत्र लिखा है. विधानसभा चुनाव कार्य में करीब एक लाख वाहन लगाए जाएंगे. फेडरेशन के अध्यक्ष उदय शंकर सिंह का कहना है कि अभी के समय में चुनाव कार्य में व्यावसायिक वाहनों को लगाना खतरे से खाली नहीं है.

बिहार संस्कृत शिक्षा बोर्ड कर्मचारी की कोरोना से मौत, बोर्ड कार्यालय बंद

अगर इस दौरान किसी वाहन के ड्राइवर व कंडक्टर की मौत कोरोना से हो गई तो इसकी जिम्मेदारी सरकार व चुनाव आयोग को लेना होगा और मुआवजा राशि सरकार को देना होगी, इसलिए सरकार वाहनों के ड्राइवर व कंडक्टर को 10-10 लाख रुपये की बीमा राशि देना सुनिश्चित करें, वरना चुनाव कार्य में वाहनों को भेजना मुश्किल होगा.

बिहार मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा, मतदाता सूची में दर्ज हो प्रवासियों के नाम

 ट्रांसपोर्ट यूनियन का कहना है कि चुनाव कार्य में जुटे वाहनों की मुआवजा राशि काफी कम है. वर्ष 2014 के बाद 2019 के लोकसभा चुनाव में मुआवजा राशि में मामूली वृद्धि की गई है, जबकि महंगाई काफी बढ़ी है. ऐसे में वाहनों की मुआवजा राशि में 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी की जाए. वाहनों के छह माह का टैक्स भी माफ किया जाए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें