बिहार में डबल इंजन की सरकार, यूपीए सरकार से ज्यादा मिल रहा है रेल बजट:पीयूष गोयल

Smart News Team, Last updated: Fri, 18th Sep 2020, 8:49 PM IST
केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल के अनुसार बिहार में अब डबल इंजन की सरकार चल रही है. देश में भाजपा की सरकार आने के बाद बिहार को रेलवे का ज्यादा बजट मिलने से विकास के काम तेजी से हो रहे हैं.
रेल परियोजनाओं के उद्घाटन समारोह में लोगों को संबोधित करते केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल

पटना. शुक्रवार को बिहार रेल परियोजनाओं के उद्घाटन शिलान्यास समारोह में केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने लोगों को वर्चुअल ई संबोधित करते हुए कहा कि बिहार में सबका साथ सबका विकास करने वाली डबल इंजन की सरकार चल रही है. बिहार विकास के मार्ग पर तेजी से चल रहा है. पीयूष ने कहा कि यूपीए की तत्कालीन सरकार में रेलवे का इतना बजट नहीं था जितना बिहार को अब मिल रहा है.

उन्होंने कहा कि वित्तीय वर्ष 2012-13 तक संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की सरकार के दौरान बिहार के लिए रेलवे का बजट मात्र हजार से 11 सौ करोड़ों रुपए के बीच हुआ करता था. लेकिन साल 2014 के बाद से बिहार को प्रतिवर्ष तीन से चार हज़ार दिए जा रहे हैं.

पटना ISBT का CM नीतीश कुमार ने किया उद्घाटन, शुरू होंगी पहले फेज की सेवाएं

केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिहार और पूर्वोत्तर की सबसे अधिक चिंता कर रहे हैं। कोसी महासेतु सहित 12 परियोजनाएं प्रधानमंत्री की बिहार के प्रति चिंता का ही फल है. साल 2003 में कोसी महासेतु का शिलान्यास तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई ने किया था और आज नरेंद्र मोदी उसका उद्घाटन कर रहे हैं.

बिहार चुनाव महागठबंधन: RJD का 2015 का सीट फॉर्मूला CPI माले ने ठुकराया

 यह महासेतु बिहार के विकास में अहम भूमिका निभाएगा. यह महासेतु पुल दो स्थानों को जोड़ने के साथ-साथ तरक्की की भी नई ऊंचाइयों को छुएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्साह से किसान रेल चलाई जा रही है. यह भारत के इतिहास में क्रांतिकारी परिवर्तन है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें