बिहार के गांव में टीका एक्सप्रेस करेगी वैक्सीनेशन, नहीं जाना होगा सरकारी अस्पताल

Smart News Team, Last updated: Sun, 23rd May 2021, 7:35 AM IST
  • ग्रामीण इलाकों में चलंत टीकाकरण केंद्र के माध्यम से 45 साल से अधिक उम्र के लोगों का वैक्सीनेशन किया जाएगा. इसके लिए टीका एक्सप्रेस को शुरू किया जाएगा. जिसमें लोगों को निशुल्क टीका लगेगा. वहीं शनिवार को आरटीपीसीआर जांच के लिए चलंत वैन को रवाना कर दिया गया है. 
बिहार के गांवों में 45+ के लोगों का कोरोना वैक्सीनेशन करेगी टीका एक्सप्रेस (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पटना. बिहार के ग्रामीण इलाकों में चलंत टीकाकरण केंद्र के माध्यम से गांव के लोगों का कोरोना वैक्सीनेशन किया जाएगा. इस वैश्विक महामारी को मात देने के लिए यह निर्णय राज्य सरकार ने लिया है. चलंत टीकाकरण केंद्र के लिए टीका एक्सप्रेस शुरू होगी. टीकाकरण एक्सप्रेस से 45 साल से अधिक उम्र के लोगों का ऑन द स्पॉट निबंधन किया जाए. टीका एक्सप्रेस में लोगों को लगाए जाने वाला टीका पूरी तरह से निशुल्क होगा. इसके शुरू होने के बाद लोगों को सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण के लिए नहीं जाना पड़ेगा.

टीका एक्सप्रेस शुरू करने के लिए राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने सभी जिले के सिविल सर्जनों को निर्देश दिया है. उन्होंने कहा है कि टीका एक्सप्रेस सुदूर ग्रामीण इलाकों में जाकर 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को कोरोना का टीका लगाएगी. चलंत टीकाकरण केंद्र के लिए राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के 700 वाहनों को टीका एक्सप्रेस के रूप में चलाएगा जाएगा. जिसमें एएनएम और फार्मासिस्ट की टीम में से एएनएम वैक्सीन लगाएगी और फार्मासिस्ट निबंधन का काम करेगी.

बिहार में बढ़ सकता है 25 मई के बाद लॉकडाउन! जल्द आ सकता है CM नीतीश का फैसला

वहीं आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए शनिवार को चलंत वैन रवाना की गई है. इसे रवाना करने के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि इस वैन के माध्यम से राज्य के ग्रामीण इलाकों में जांच में बहुत मदद मिलेगी. इस वैन से 1000 लोगों की एक दिन में जांच हो सकेगी. साथ ही 24 घंटे के अंदर ही लोगों को जांच की रिपोर्ट दे दी जाएगी. सीएम ने बताया कि कोरोना टेस्ट के लिए इस महीने के अंत तक चार चलंत वैनों को और शुरू किया जाएगा.

कहर: पटना एम्स में 24 घंटों में ब्लैक फंगस के आठ मरीज भर्ती, 30 बेड का वार्ड फुल

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें