गाड़ियों के लिए VIP नंबर लेना अब आसान, नीतीश कैबिनेट में पास हुआ ये प्रस्ताव

Smart News Team, Last updated: Tue, 20th Apr 2021, 9:55 AM IST
  • नीतीश कैबिनेट की बैठक सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुई. कैबिनेट मीटिंग में 9 प्रस्तावों पर मुहर लगाई गई. जिसमें गाड़ियों के वीआईपी नंबर लेने के लिए बिहार मोटर गाड़ी 1994 के नियम को भी संशोधित करने का भी फैसला लिया गया.
नीतीश कैबिनेट में 9 प्रस्तावों पर मुहर लगी.

पटना. नीतीश कैबिनेट में सोमवार को कुल 9 प्रस्ताव पास हुए हैं. जिसमें कैबिनेट का पहला एजेंडा परिवहन विभाग से संबंधित था. आम जनता को मनपसंद गाड़ियों के नंबर उपलब्धन कराने के लिए परिवहन विभाग ने बड़ा कदम उठाया है जिसमें वाहन विक्रेताओं के स्तर पर वाहन खरीदने वालों को मनपसंद गाड़ी नंबर देने की व्यवस्था की गई है. 

इस पहल में मनपंसद गाड़ी नंबर को वाहन विक्रेता ज्यादा से ज्यादा खरीददारों को दें इसके लिए परिवहन विभाग द्वारा प्रोत्साहन राशि दी जाएगी. विक्रेताओं को प्रोत्साहित करने के लिए बिहार मोटर गाड़ी 1994 के नियम को संशोधित किया गया है. इस संशोधन से आम लोगों को फायदा होगा.

नीतीश कैबिनेट में कोरोना महामारी से प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार से मिली 350 करोड़ की आकस्मिक निधि को अस्थाई रूप से बढ़ाकर 30 मार्च तक के लिए 8 हजार 732 करोड़ 10 लाख रुपए करने की स्वीकृति दी है. इसी के साथ सीतामढ़ी की वरीय उप समाहर्ता नरेंद्र नाथ की सेवा बर्खास्तगी के प्रस्ताव पर मुहर लगा दी गई है. 

नीतीश कैबिनेट का बड़ा फैसला, बिहार में जल्द शुरू होगी महिला व युवा उद्यमी योजना

महिलाओं के बीच उद्योग को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना की स्वीकृति दी है. साथ वित्तीय वर्ष 2021-22 में इस योजना के लिए 200 करोड़ रुपए देने पर भी मुहर लगी है. इसी के साथ राज्य के युवाओं में उद्यमिता और स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना को भी स्वीकृति मिली है. इस योजना के लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 में दो सौ करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे. 

CBSE और ICSE बोर्ड की प्रैक्टिकल परीक्षाएं टली, जानें अब कब होगा एग्जाम 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें