पटना: बदलते मौसम में हो जाएं सावधान, अस्पतालों में ब्रेन हैमरेज के बढ़ रहे मामले

Smart News Team, Last updated: Fri, 6th Nov 2020, 2:11 PM IST
  • सुबह-शाम तापमान में गिरावट के चलते ठंड बढ़ जाती है. बीपी, शूगर के मरीजों के लिए खतरनाक होता है. अस्पतालों में पिछले कुछ दिनों से ब्रेन हैमरेज के मरीजों का आना भी लगातार शुरू हो गया है, इसलिए सावधानी में ही बचाव है और सुबह-शाम ठंड में गर्म कपड़े पहन कर ही निकलें.
सुबह-शाम घर से गर्म कपड़े पहनकर ही घर से निकलें

पटना. मौसम में बदलाव के साथ तापमान में गिरावट आने के कारण ठंड बढ़ रही है. इस मौसमी बदलाव के चलते अस्पतालों में ब्रेन हैमरेज के मरीज बढ़ रहे हैं. खासकर जो मरीज हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत से पीड़ित हैं. उनमें इस बीमारी का खतरा ज्यादा है. इंदिरा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (आईजीआईएमएस) में 45 से 60 साल के 11 मरीजों को दाखिल किया गया है, जबकि यहां पहले से भी दो मरीज भर्ती हैं, उनकी उम्र भी इसी दरमियान है. सभी को न्यूरोलॉजी विभाग में भर्ती कर उपचार किया जा रहा है.

इस बारे में चिकित्सा अधीक्षक डॉ. मनीष मंडल ने जानकारी देते हुए बताया कि ठंड के अचानक बढ़ने से बीपी व शुगर के शिकार मरीजों में स्ट्रोक व हैमरेज की शिकायत आ रही है. इसके कारण इनकी स्थिति सबसे अधिक खराब हो जा रही है. संस्थान में दो नवंबर से ब्रेन हैमरेज के मरीज लगातार सामने आए हैं, उन्हें आइसीयू में भर्ती किया गया है. मरीजों की गिनती ज्यादा होने के कारण अब संस्थान में आईसीयू के सभी बेड फुल हो गए हैं. न्यूरोलॉजी विभाग के चिकित्सक लगातार सभी मरीजों की मॉनीटरिंग कर रहे हैं।

पटना सर्राफा बाजार में सोना 360 व चांदी 1300 चढ़ी, क्या है आज का मंडी भाव

आईजीआईएमएस के हृदय रोग विभाग के वरीय प्राध्यापक डॉ. नीरव के मुताबिक मौसम में सुबह-शाम और दिन के तापमान में काफी ज्यादा अंतर रहता है. इस कारण बीपी एवं शुगर वाले मरीजों के लिए अचानक ठंड से गर्मी में जाना या गर्मी से ठंड में जाना खतरनाक होता है. सुबह-शाम ठंड में गर्म कपड़ा पहन कर ही निकलना चाहिए. दवा का नियमित सेवन करें. बुजुर्ग, बच्‍चे और बीमार हल्‍की धूप निकलने पर ही सुबह-शाम सैर के लिए निकलें.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें