कोरोना काल में मुहर्रम को लेकर बिहार सरकार की गाइडलाइन, ताजिया-जुलूस पर रोक

Smart News Team, Last updated: 19/08/2020 07:19 PM IST
  • बिहार की नीतीश कुमार सरकार ने कोरोना काल में मुहर्रम मनाने को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी है. राजधानी पटना, मुजफ्फरपुर समेत सभी जिलों में ताजियों पर रोक रहेगी.
मुहर्रम को लेकर बिहार सरकार की गाइडलाइन, ताजिया-जुलूस पर रोक

पटना. कोरोना काल में बिहार की नीतीश कुमार सरकार की ओर से मुहर्रम को लेकर गाइडलाइंस जारी कर दी हैं. खबर है कि इस साल मुहर्रम के दौरान किसी भी तरह का कोई आयोजन या जुलूस नहीं निकाला जाएगा. ताजिया निकालने पर सरकार ने रोक लगा दी है. हालांकि घर में लोग सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मुहर्रम की रस्में जरूर निभा सकते हैं. पढ़िए बिहार सरकार का पूरा आदेश.

क्या हैं बिहार में मुहर्रम की गाइडलाइन

अलम ताजिया, सिपर और अखाड़े का कोई जुलूस नहीं किया जाए. शस्त्र प्रदर्शन नहीं किया जाए. लाउड स्पीकर को भी बंद रखा जाए. किसी भी सार्वजनिक स्थल पर ताजिया नहीं रखा जाए और अखाड़े का आयोजन नहीं किया जाए.

CM नीतीश पर टिप्पणी से भड़के बिहार DGP, बोले- रिया की इतनी औकात नहीं...

इमामबाड़ा, अजाखाना, जरीखाना में लोगों की भीड़ जमा ना की जाए. लोग अपने घरों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने मजलिस का आयोजन कर सकते हैं.

यौमे अशुरा के दिन फूल लेकर जुलूस की शक्ल में कर्बला नहीं जाएं बल्कि दो-तीन आदमी किसी वाहन से इसे ले जाएं. सरकार के सभी निर्देशों का सख्ती से पालन किया जाए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें