जगह-जगह खुले पड़े हैं मैनहोल बन रहे हादसों का कारण, शिकायत पर भी हल नहीं

Smart News Team, Last updated: Wed, 6th Jan 2021, 3:41 PM IST
  • शहर के कई वार्डों में मैनहोल ढक्कन के बिना खुले पड़े हैं. जलभराव के चलते रोड पर इनका पता नहीं चल पाने की वजह से दुर्घटनाएं होती हैं. किसी भी समय कहीं भी बड़े हादसे का खतरा बना रहता है. निगम को इस समस्या का हल करने को कई बार कहा गया है पर कोई समाधान नहीं निकाला जा रहा.
पटना नगर निगम की ओर से वन ड्रीम क्लीन अभियान चलाया जा रहा है

पटना. शहर में जगह-जगह खुले पड़े मेनहोल आए दिन हादसों का कारण बन रहे हैं. यह समस्या जलभराव के चलते काफी गंभीर बनी हुई है. मैनहोल पर ढक्कन ना होने के चलते जलभराव के दौरान स्थिती और ज्यादा खतरनाक बनी हुई है. इससे जहां बड़ा हादसा होने का अंदेशा बना रहता है, वहीं गंदा पानी सड़कों पर फैलने की वजह से बीमारियां फैलने का अंदेशा बना रहता है. नगर निगम अधिकारी इस समस्या के हल की ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं.

लोगों ने इस समस्या संबंधी कई बार शिकायते की हैं लेकिन समस्या के समाधान की ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है. कई जगहों पर खुले मेनहोल के कारण हादसा ना हो जाए लोगों ने मेनहोल में बांस के बल्ले आदि दे दिए हैं ताकि वाहन चालक हादसे से बच सकें.

उत्पाद निरीक्षक के घर-ऑफिस पर निगरानी‌ टीम का छापा, जेवर-नकदी और कागजात जब्त

पटना निगम की सशक्त स्थायी समिति के सदस्यों का इस बाबत कहना है कि निगम के पास राशि का अभाव है, सरकार को इसके लिए राशि उपलब्ध करवानी चाहिए. महापौर सीता साहू ने कहा कि वित्त विभाग को पत्र लिखकर वार्ड स्तर पर रिवॉलविंग फंड बनाने की मांग की है. सरकार को चाहिए कि उनकी मांग पर विचार करे क्योंकि मैनहोल के ढक्कन क्षतिग्रस्त होने के कारण हादसा होने का खतरा बना रहता है. वार्ड पार्षदों ने कहा कि ठेकेदारों का बकाया है वह अपने स्तर पर मैनहोल ठीक करवाने का प्रयास करेंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें