पटना में फिर तेजी से बढ़ने लगा कोरोना के मरीज, एम्स में आईसीयू फुल

Smart News Team, Last updated: 15/12/2020 02:02 PM IST
  • राजधानी में ठंड के साथ ही कोरोना संक्रमण भी तेजी से बढ़ने लगा है. मरीजों की तादाद बढ़ने से स्वास्थ्य विभाग अलर्ट पर है. सोमवार को पटना एम्स में दो और पीएमसीएच में एक मरीज की कोरोना से मौत हुई है.
पटना में कोरोना के मरीज बढ़ने लगे हैं

पटना. पटना में दिसंबर में फिर से कोरोना संक्रमण के मामले सामने आने लगे हैं. राजधानी के विभिन्न इलाकों से सोमवार को कोरना के 195 नए पॉजिटिव मरीज मिले हैं और तीन मरीजों की मौत हुई है.  इस समय 2074 एक्टिव केस हैं. पीएमसीएच के कोविड अस्पताल में 22 मरीज भर्ती हैं. स्वस्थ होने पर दो मरीजों को छुट्टी दी गई है. कोविड अस्पताल में छपरा के कृष्णनंदन सिंह (75) की मौत हुई है. पटना एम्स में कोरोना संक्रमित दो मरीजों की मौत हुई है. इसमें एक 55 साल के शिव कुमार शेखपुरा और एक 73 साल के मिथिलेश कुमार दानापुर के रहने वाले हैं.

पटना एम्स में अभी 173 मरीज भर्ती है. इसमें से आईसीयू में 62 और वेंटिलेटर पर 26 मरीज हैं. एम्स का आईसीयू फुल होने के चलते मरीजों को बिहटा के पीएम कोविड केयर अस्पताल रेफर किया जा रहा है. सोमवार को 1661 सैंपल की जांच हुई. इसमें 31 सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. वहीं बिहटा के पीएम कोविड केयर अस्पताल में 8 मरीज भर्ती हैं और तीन मरीज आईसीयू में हैं. पीएमसीएच में पोस्ट कोविड मरीजों के इलाज के लिए व्यवस्था की गई है. यहां की व्यवस्था में सुधार करने का निर्देश स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने समीक्षा बैठक में दिया है.

प्रेमी मर्डर: पार्सल डिलीवरी से दोस्ती, प्रेमिका के भाई ने दी थी मर्डर की धमकी

सोमवार को पटना एम्स में 18 नए मरीज भर्ती हुए हैं. इसमें पटना के 8 मरीज शामिल हैं. ये मरीज शास्त्रीनगर, गर्दनीबाग, बोरिंग कैनाल रोड, नौबतपुर, आशियानानगर, बेली रोड, भूतनाथ रोड के रहने वाले हैं. स्वस्थ होने पर 10 मरीजों को छुट्टी दी गई है. मुख्य सचिव दीपक कुमार की ओर से सभी जिलाधिकारियों को अस्पतालों की जांच करने के निर्देश दिए थे. सोमवार को राज्य के सभी मेडिकल कॉलेज, जिला और अनुमंडल अस्पतालों का डीएम ने मुआयना किया. कोरोना संक्रमण और वैक्सिनेशन को लेकर अस्पताल की स्थिति और तैयारी से संबंधित विस्तृत रिपोर्ट वे स्वास्थ्य विभाग को देंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें