पटना

साइबर ठगों के निशाने पर पटना के लोग, ऑनलाइन पेमेंट करें जरा संभलकर

Smart News Team, Last updated: 04/06/2020 09:14 PM IST
  • कोरोना लॉकडाउन में साइबर अपराधी अधिक सक्रिय हो गए हैं। कोरोना लॉकडाउन में ऑनलाइन सर्विसेज के दौरान डिजिटल पेमेंट साइबर अपराधियों के लिए ठगी का एक बड़ा हथियार बनता जा रहा है।
प्रतीकात्मक तस्वीर

कोरोना लॉकडाउन में साइबर अपराधी अधिक सक्रिय हो गए हैं। कोरोना लॉकडाउन में ऑनलाइन सर्विसेज के दौरान डिजिटल पेमेंट साइबर अपराधियों के लिए ठगी का एक बड़ा हथियार बनता जा रहा है। लॉकडाउन में कोरोना वायरस के डर की वजह से लोग दुकान जाकर सामान खरीदने की बजाय ऑनलाइन पर्चेजिंग को प्राथमिकता दे रहे हैं। बड़ी संख्या में लोगों के पास ऑनलाइन सर्विसेज एक बड़ा सहारा है, जिसके जरिये लोग दूध से लेकर फल, सब्जियां व अन्य जरूरी सामान मंगा रहे हैं। मगर यही चीज इनके लिए घातक और साइबर ठगों के लिए फायदेमंद साबित हो रही हैं।

एक ओर जहां आमलोग इस लॉकडाउन में ऑनलाइन सर्विसेज से बड़ी राहत महसूस कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर जाने-अनजाने साइबर अपराध का खतरा भी उनके इर्द-गिर्द मंडराने लग गया है। ऐसे में उपभोक्ताओं को ऑनलाइन सर्विसेज की बुकिंग काफी महंगी साबित हो सकती है। इसके लिए ऑनलाइन ऑर्डर देने से पहले लोगों के लिए कुछ सतर्कता बरतनी आवश्यक है। मसलन आर्डर देते वक्त विश्वसनीय सर्विसेज को ही प्राथमिकता दें। साथ ही पहले पेमेंट न कर डिलीवरी के समय से पेमेंट करें व डिजिटल पेमेंट के दौरान भी सतर्क रहें।

कस्टमर केयर नंबर को जांच लें

ऑनलाइन सर्विसेज के कस्टमर केयर से बात से करने से पहले भी कई सावधानियां जरूरी है। मसलन कस्टमर केयर का नंबर लेने के लिए सोशल साइट पर दिये गये नंबरों का उपयोग बिल्कुल न करें। सोशल साइट इस वक्त साइबर अपराधियों के लिए ठगी का बेहतर माध्यम बना है। सोशल साइट पर ऑनलाइन सर्विसेज के नाम से अपराधी फर्जी नंबर डालकर धोखाधड़ी कर रहे हैं। ऐसे मामले बड़ी तेजी से सामने आ रहे हैं। फर्जी नंबरों पर फोन करते ही उपभोक्ता को एक लिंक भेजा जाता है। लिंक पर क्लिक करते ही उनका डाटा हैक हो जाता है अथवा बैंक अकाउंट खाली हो जाता है। इसलिए कस्टमर केयर का नंबर हमेशा ऑफिशियल वेबसाइट से ही लें व इससे पूर्व यूआरएल व वेबसाइट सही तरीके से जांच कर लें।

फेसबुक हैक कर मांग रहे दोस्तों से रुपये

साइबर अपराधियों ने एक युवक का फेसबुक हैक कर लिया व उसके दोस्तों से इमरजेंसी बता कर ऑनलाइन रुपयों की मांग कर रहे हैं। घटना शहर के न्यू एरिया मोहल्ले के पातालपुरी निवासी विजय प्रसाद गुप्ता के बेटे संजीव के साथ घटी बतायी जाती है। संजीव के मुताबिक अपराधी उसके फेसबुक मैसेंजर से उसके दोस्तों को मैसेज भेजकर रुपयों की मांग कर रहे हैं। अपराधी जिस मोबाइल नंबर का यूज कर रहे हैं वह यूपी का बताया जाता है। संजीव ने घटना की शिकायत नगर थाने में कर अपराधियों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है।

अन्य खबरें