अमेजन के जंगल में मिला अनोखा मेंढक, ‘तपीर’ जैसी है नाक, जानिए दिलचस्प बातें

Naveen Kumar, Last updated: Mon, 28th Feb 2022, 10:07 AM IST
  • वैज्ञानिकों ने पेरू के अमेजन जंगल में एक ऐसे मेंढक की खोज की है, जिसकी नाक ‘तपीर’ जैसी है. पेरू के इंस्टीट्यूट पेरुआनो डी हर्पेटोलोजिया के पहले लेखक जर्मेन चावेज अपनी रिपोर्ट में मेंढक की इस नई प्रजाति को लेकर काफी दिलचस्प बातें शेयर की हैं. 
फाइल फोटो

पेरू के अमेजन जंगल में वैज्ञानिकों ने एक बेहद ही अनोखे मेंढक की खोज की है. मेंढक की इस विचित्र नई प्रजाति को लेकर वैज्ञानिक शोध कर रहे हैं, जिसमें कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. रिपोर्ट के अनुसार, मेंढक की नई प्रजाति पेरू के लोरेटो में निचले पुटुमायो बेसिन में पाई गई है. वैज्ञानिकों के अनुसार, इस अनोखे मेंढक के शरीर के अंग अलग ही किस्म के है. पेरू के इंस्टीट्यूट पेरुआनो डी हर्पेटोलोजिया के पहले लेखक जर्मेन चावेज अपनी रिपोर्ट में मेंढक की इस नई प्रजाति को लेकर काफी कुछ बताया है. 

मेंढक का नाक दक्षिणी अमेरिका में पाए जाने वाले विशिष्ट जानवर ‘तपीर’ जैसी है. इसके अलावा नई प्रजाति में एक लंबा, घुमावदार थूथन है. इसक शेप शाकाहारी अमेजोनियन स्तनपायी तपीर की तरह दिखता है. मेंढक की इस नई प्रजाति के त्वचा का रंग गहरे भूरे लाल रंग का है. वहीं, इसका माप 0.7 इंच 1.79 सेमी है. आपको बता दें कि वैज्ञानिकों ने मेंढक की इस नई प्रजाति के खोज के दौरान पाया कि इसकी छाती और पेट मलाईदार पीले रंग का है. साथ ही इसके शरीर पर भूरे रंग के धब्बे पाए जाते हैं. इसका आकार भी बेहद ही अलग है. वैज्ञानिकों के अनुसार, इस नई प्रजाति के मेढक का आकार अमेजोनियन पीटलैंड की नरम मिट्टी के अनुकूल है.

वैज्ञानिकों की बड़ी उपलब्धि, हवा में जानवरों को ट्रैक करने वाला DNA मौजूद

पेरू के इंस्टीट्यूट पेरुआनो डी हर्पेटोलोजिया के पहले लेखक जर्मेन चावेज ने अपनी ​रिपोर्ट में बताया कि इस प्रजाति के मेंढक पूरे अमेजन में फैले हुए हैं. हालांकि, यह नई प्रजाति को अमेजन पीटलैंड में पाई गई है. ऐसे में इस वातावरण तक सीमित रखना अजीब नहीं होगा. फिलहाल वैज्ञानिक मेंढक की इस नई प्रजाति को लेकर रिसर्च कर रहे हैं. ऐसे में इस अनोखे मेंढक को लेकर कई और भी खुलासे संभव हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें