दिवाली पर करीब 500 साल बाद बन रहा दुर्लभ संयोग, धन संबंधी कामों में मिलेगी सफलता

Smart News Team, Last updated: 03/11/2020 05:35 PM IST
  • दिवाली पर इस बार 1521 के बाद तीन बड़े ग्रहों का दुर्लभ संयोग बन रहा है. इस संयोग से धन संबंधी कामों में सफलता मिलने का योग बनेगा
इस बार की दीपावली के लिए ज्योतिष गणित भी शुभ संकेत दे रही है

पटना. दिवाली का त्योहार पास है. हिंदू धर्म में दिवाली का विशेष महत्व होता है. इस दिन माता लक्ष्मी और भगवान गणेश की पूजा की जाती है. इस साल दिवाली 14 नवंबर को है. इस साल दिवाली पर तीन ग्रहों का दुर्लभ संयोग इसे और ज्यादा खास बना रहा है. ज्योतिषों की मानें तो दिवाली पर गुरु ग्रह अपनी स्वराशि धनु और शनि अपनी स्वराशि मकर में रहेगा. जबकि शुक्र ग्रह कन्या राशि में रहेगा. दिवाली पर तीन ग्रहों का यह दुलर्भ संयोग 2020 से पहले 1521 में बना था. ऐसे में यह संयोग 499 साल यानि करीब 500 साल बाद बन रहा है.

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक गुरु और शनि आर्थिक स्थिति मजबूत करने वाले कारक ग्रह माने गए हैं. ऐसे में दिवाली पर यह दो ग्रह अपनी स्वराशि में होने से धन संबंधी कार्यों में बड़ी सफलता का योग बनाएंगे. इस बार दिवाली पर 14 नवंबर को लक्ष्मी पूजा मुहूर्त शाम 5 बजकर 28 मिनट से शाम 7 बजकर 24 मिनट तक है. प्रदोष काल मुहूर्त शाम 5 बजकर 28 मिनट से रात 8 बजकर 07 मिनट तक है. वृषभ काल मुहूर्त शाम 5 बजकर 28 मिनट से रात 7 बजकर 24 मिनट तक है.

पटना जंक्शन के पास बकरी बाजार हुआ कूड़ा मुक्त

चौघड़िया मुहूर्त में करें लक्ष्मी पूजन - लक्ष्मी पूजा मुहूर्त 14 नवंबर की दोपहर 02 बजकर 17 मिनट से शाम को 04 बजकर 07 मिनट तक है.

लक्ष्मी पूजा मुहूर्त 14 नवंबर दिवाली की शाम में 05 बजकर 28 मिनट से शाम 07 बजकर 07 मिनट तक है.

रात में लक्ष्मी पूजा मुहूर्त 14 नवंबर की रात 08 बजकर 47 मिनट से देर रात 01 बजकर 45 मिनट तक है.

प्रात:काल में लक्ष्मी पूजा मुहूर्त 15 नवंबर को 05 बजकर 04 मिनट से 06 बजकर 44 मिनट तक है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें