पटना: दोबारा अतिक्रमण करने वालों को होगा दोगुना जुर्माना, विशेष रणनीति तैयार

Smart News Team, Last updated: 16/12/2020 06:17 PM IST
  • अतिक्रमण हटाओ अभियान के पहले दिन मंगलवार को प्रमुख स्थानों पर चलाए अभियान में दो लाख से ज्यादा रकम की वसूली की गई. प्रमंडलीय आयुक्त ने दोबारा अतिक्रमण करने वालों से दोगुना जुर्माना वसूलने के साथ उनकी काली सूची बनाने के लिए भी कहा है
अतिक्रमण (फाइल फोटो)

पटना. शहर में अतिक्रमण के कारण सड़कें तंग होती जा रही हैं. जिस कारण लोगों को काफी परेशानी आती है. प्रशासन ने इस समस्या से निपटने के लिए विशेष रणनीति तैयार कर ली है. जिसके तहत जिस जगह से एक बार प्रशासन ने अतिक्रमण हटाया होगा, वहां दोबारा अतिक्रमण नहीं होने दिया जाएगा. दोबारा अतिक्रमण करने वाले से दोगुना जुर्मान वसूला जाएगा. इस संबंध में प्रमंडलीय आयुक्त ने निर्देश भी जारी कर दिए हैं. आदेशों के मुताबिक ऐसे अतिक्रमणकारियों की काली सूची बनाई जाएगी. आयुक्त ने डीएम एवं एसएसपी को नगर निगम, जिला प्रशासन एवं पुलिस बल के बीच समन्वय स्थापित कर चरणबद्ध तरीके से अभियान चलाने का निर्देश दिया है. गौरतलब है कि पटना में अतिक्रमण हटाओ अभियान का तीसरा चरण चल रहा है. जिसके पहले दिन मंगलवार को दो लाख पांच हजार 100 रुपए की वसूली जुर्माने के रूप में की गई है.

उल्लेखनीय है कि पटना शहर की सड़कों का अतिक्रमण से बुरा हाल है. शहर के प्रमुख स्थानों बेली रोड, बुद्ध मार्ग, अशोक राजपथ तक का अतिक्रमण से बुरा हाल है. इस स्थिति को लेकर हाईकोर्ट तक नाराजगी जाहि‍र कर चुकी है. अब पटना में अतिक्रमण के खिलाफ प्रशासन निर्णायक कार्रवाई के मूड में है. इसके लिए विशेष तौर पर रणनीति बनाई गई है. अतिक्रमण हटाने के बाद दोबारा उस जगह पर कब्जा जमाने वालों से अब दोगुना जुर्माना वसूला जाएगा. आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल ने निर्देश जारी किए हैं कि ऐसे अतिक्रमणकारियों की काली सूची बनेगी. बड़े और आदतन अतिक्रमणकारियों को इस सूची में डाला जाएगा.

अभियान के तहत नगर निगम के सभी चार अंचलों में एक साथ अतिक्रमण हटाया जा रहा है.  पटना नगर निगम के पाटलिपुत्र अंचल से 99 हजार दो सौ, नूतन राजधानी से पचास हजार और पटना सिटी अंचल से 55 हजार 900 रुपए जुर्माना वसूला गया.  पटना सिटी अंचल में एनएमसीएच से गुलजारबाग होते हुए मीना बाजार तक, नूतन राजधानी अंचल में मीठापुर सब्जी मंडी में और पाटलिपुत्र अंचल में दीघा गेट नंबर 93 से दीघा थाना तक अभियान चलाया गया. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें