पटना के मसौढ़ी, बाढ़, फतुहा और कंकड़बाग में 4 नए सीएनजी स्टेशन जल्द होंगे चालू

Smart News Team, Last updated: Wed, 10th Feb 2021, 12:37 PM IST
  • गेल के डीजीएम विशाल सिंघल ने बताया कि सीएनजी स्टेशन अप्रैल-मई तक चालू कर दिए जाएंगे. जिससे राजधानी में सीएनजी स्टेशनों की गिनती दस हो जाएगी. उन्होंने बताया कि सीएनजी स्टेशन स्थापित करने के साथ ही राजधानी में पाइप्ड नेचुरल गैस कनेक्शन देने की रफ्तार भी तेज की जाएगी. 
फाइल फोटो

पटना. पटना में अप्रैल-मई तक चार नए सीएनजी स्टेशन चालू हो जाएंगे. जिससे अब सीएनजी स्टेशनों पर लगने वाली लोगों की लंबी कतार से राहत मिल जाएगी. दरअसल मई तक पटना में चार नए सीएनजी स्टेशन मसौढी, कंकड़बाग, फतुहा और बाढ़ में चालू किए जाएंगे. सीएन स्टेशन स्थापित करने के साथ ही राजधानी में पाइप्ड नेचुरल गैस कनेक्शन देने की रफ्तार भी तेज की जाएगी. इस संबंध में जानकारी देते हुए गेल के डीजीएम विशाल सिंघल ने बताया कि एक वर्ष में 10 हजार घरों में पीएनजी कनेक्शन चालू करने की योजना है.

गेल के डीजीएम के मुताबिक मार्च महीने में ही फतुहा और कंकड़बाग के बहादुरपुर में सीएनजी स्टेशन चालू हो जाएगा. इसके बाद साथ में ही मसौढ़ी और बाढ़ में भी सीएनजी स्टेशन चालू कर दिए जाएंगे. इनके चालू होने के बाद जिले में 10 सीएनजी स्टेशन हो जाएंगे. उल्लेखनीय है कि इस समय पटना में छह सीएनजी स्टेशन संचालित हो रहे हैं. इस स्टेशनों पर अकसर वाहनों की लंबी कतार लगी देखी जा सकती है. जब अप्रैल मई तक चार और सीएनजी स्टेशन चालू हो जाएंगे तो इन स्टेशनों को लंबी कतारों से राहत मिलने के आसार हैं.

देश का सबसे बड़ा अस्पताल बनेगा पीएमसीएच, आधुनिक सुविधाओं से होगा लैस

विशाल सिंघल का कहना है कि राजधानी के हर प्रखंड में एक सीएनजी स्टेशन खोलने की योजना पर काम हो रहा है. जिसे लेकर सर्वे का काम जारी है. पहले से ही चल रहे पेट्रोप पंपों पर सीएनजी स्टेशन शुरू करने की योजना पर काम हो रहा है. शहरी इलाकों में प्रत्येक तीन से चार किलोमीटर पर सीएनजी स्टेशन खोलने की योजना है. पटना में पीएनजी के विस्तार का काम तेजी से चल रहा है. गेल के डीजीएम के मुताबिक एक साल में दस हजार घरों में पीएनजी चालू करने की योजना है. पाइप को बिछाने का कार्य तेजी से चल रहा है. वर्तमान में इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार हो रहा है जिससे बीस हजार घरों तक पीएनजी पहुंचेगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें