घर के मंदिर में माता लक्ष्मी की ये विशेष फोटो से होगा धन लाभ, बढ़ेगा बैंक बैलेंस

Pallawi Kumari, Last updated: Wed, 26th Jan 2022, 3:50 PM IST
  • माता लक्ष्मी को धन वैभव की देवी कहा जाता है. मां की कृपा पाने कके लोग पूरे श्रद्धा और भक्ति भाव से उनकी पूजा करते हैं. इसके बावजूद उन्हें आर्थिक समस्या से जूझना पड़ता है. आइये जानते हैं कैसे मां लक्ष्मी आपकी पूजा से प्रसन्न होगी और आपको आर्थिक समस्या से छुटकारा मिलेगा.
धन की देवी माता लक्ष्मी (फोटो-लाइव हिन्दु्स्तान)

मां लक्ष्मी को धन की देवी कहा जाता है. लेकिन सही तरीके से पूजा न करें या मां लक्ष्मी की कोई ऐसी फोटो घर पर स्थापित कर देने जोकि नहीं करनी चाहिए. इन सभी कारणों से भी धन का अभाव हो जाता है और घर पर कंगाली आने लगती है. अगर आपके साथ भी ऐसा हो रहा है तो परेशान न हो. इस खबर हम आपको बता रहे हैं कि मां लक्ष्मी की किस तरह की फोटो को घर पर रखने से आपका बैंक बैलेंस बढ़ेगा और कारोबार में दिन दोगुनी रात चौगुनी तरक्की होगी.

घर के मंदिर में या जहां भी मां लक्ष्मी की पूजा होती हो उस स्थान को साफ सुधरा रखें. सुबह और शाम मां लभ्मी की पूजा करें और धूप दीप जलाएं. मां लक्ष्मी की पूजा के लिए आप इन पांच तरह की अद्भूत फोटो लगा सकते हैं. आइये जानते हैं पूजा के लिए कैसी होनी चाहिए मां लक्ष्मी की फोटो.

Amavasya 2022: माघ मौनी अमावस्या पर मिलेगा पितरों का आशीर्वाद, बस करें 5 उपाय

कमल फूल वाली फोटो-

माता लक्ष्मी को कमल के फूल बेहद प्रिय होते हैं. मां लक्ष्मी की ऐसी फोटो, जिसमें वह कमल पर विराजमान हो ऐसी फोटो घर के मंदिर में लगाएं और प्रतिदिन पूजा करें. कहा जाता है कि इससे मां प्रसन्न होती है घर पर वास करती हैं.

हाथी वाली फोटो-

मां लक्ष्मी की कई फोटो में हाथी देखा जाता है. हाथी का अर्थ जल और जीवन का निरंतर प्रवाहित होना होता है है. हाथी के साथ वाली मां लक्ष्मी की फोटो घर मेंलगाने से व्यक्ति के कारोबार में वृद्धि होती है और आर्थिक समस्या दूर होती है.

विष्णु जी के साथ वाली फोटो-

श्री हरि विष्णु के साथ माता लक्ष्मी की फोटो घर के मंदिर में रखने से घर की कंगाली दूर होती है. शास्त्रों में कहा गया कि घर में श्री हरि विष्णु के चरण दबा रहीं देवी लक्ष्मी की फोटो रखना भी शुभ होता है.

Ekadashi 2022: 28 जनवरी को है षटतिला एकादशी, श्री हरि की कृपा के लिए ऐसे करें पूजा

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें