पटना में पश्चिमी हवाओं की गति बढ़ने से तापमान 10 डिग्री से नीचे जाने का अनुमान

Smart News Team, Last updated: 01/12/2020 06:24 PM IST
  • पटना में दिसंबर में कड़ाके की ठंड पड़ने की संभावना है. पश्चिमी हवाओं से तापमान में काफी गिरावट आने की संभावना है. स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक लोगों को बचाव के लिए सुबह शाम घरों से निकलने से परहेज करने की और जरूरत हो तो गर्म कपड़े पहनकर ही निकलने की सलाह दी गई है.
पटना में तापमान 10 डिग्री से नीचे जाने की संभावना है

पटना. पश्चिम से आने वाली ठंडी हवाओं की गति बढ़ने से राजधानी के सुबह शाम के तापमान में तेजी से गिरावट आ रही है. आने वाले कुछ दिनों में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से नीचे जाने की संभावना है. पश्चिमी हवाओं के चलते राज्य में ठंड लगातार बढ़ती जा रही है. मंगलवार की सुबह काफी सर्द रही. जिस वजह से सड़कों और राजधानी के पार्कों में बहुत कम लोग सैर करते हुए दिखाई दिए. 

मौसम विज्ञानियों का कहना है कि राजधानी में दिसंबर में ठंड और जोर पकड़ेगी और अगले एक सप्ताह में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से भी कम होने की संभावना है. इसके साथ ही सुबह और शाम में न्यूनतम तापमान में तेजी से गिरावट दर्ज की जाएगी. जिससे कड़ाके की ठंड पड़ेगी. 

पटना में बंद ही रहेंगे म्यूजियम, प्रशासन अभी खोलने के पक्ष में नहीं

मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक वर्तमान में हवा में 87 फीसदी तक नमी रिकॉर्ड की जा रही है. जो ठंड के बढ़ने का अंदेशा है. इसके साथ ही अधिकतम तापमान 26 से 28 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया जा रहा है. दिन में आसमान साफ रहने से लोग धूप सेंक कर ठंड से राहत महसूस करेंगे. पीएमसीएच के हार्ट रोग विशेषज्ञ डॉक्टर अशोक कुमार की मानें तो उन्होंने ठंड से बचने के लिए कहा है और बुजुर्गों को पार्को में टहलने के लिए सूर्योदय के बाद वातावरण में गर्मी आने पर ही घरों से निकलने की सलाह दी है. सुबह शाम की सैर उनके स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। बीपी के मरीजों अपनी जेब में दवा रखनी चाहिए. टहलते वक्त भी गर्म कपड़ा पहनकर रखें.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें