पटना: अस्पतालों में जांच उपकरणों की अब होगी मॉनिटरिंग, टीम का होगा गठन

Smart News Team, Last updated: 15/12/2020 11:50 PM IST
अनुमंडल और जिलों से लगातार मिलती शिकायतों के बाद स्वास्थ्य विभाग ने मॉनिटरिंग टीम गठन का प्रस्ताव तैयार किया है।सभी 38 जिला और 57 अनुमंडल अस्पतालों से संस्थानों में लगाए गए उपकरणों की जानकारी लिए जाने की तैयारी है।
अस्पतालों में जांच उपकरणों की अब होगी मॉनिटरिंग,

पटना:अनुमंडल और जिलों से लगातार मिलती शिकायतों के बाद स्वास्थ्य विभाग ने मॉनिटरिंग टीम गठन का प्रस्ताव तैयार किया है। प्रदेश के अनुमंडल और जिला अस्पतालों में सिटी स्कैन और एक्सरे के साथ ही जांच से जुड़े दूसरे उपकरणों की अब रोज मॉनिटरिंग होगी। इसके लिए अस्पताल स्तर पर टीम का गठन किया जाएगा।  ताकि जिला व अनुमंडल अस्पतालों में व्यवस्था को दुरुस्त किया जा सके। 

बता दें स्वास्थ्य विभाग को विगत कुछ महीनों से लगातार जिला और अनुमंडल अस्पतालों में इलाज को गए लोगों की ओर से ऐसी शिकायतें मिल रही हैं कि जांच को गए मरीजों को मशीनें दुरुस्त न होने की जानकारी देकर जांच से इंकार कर दिया जाता है। सूत्रों के अनुसार तो सभी 38 जिला और 57 अनुमंडल अस्पतालों से संस्थानों में लगाए गए उपकरणों की जानकारी लिए जाने की तैयारी है। साथ ही जो उपकरण बंद पड़े हैं या कर्मचारी के अभाव में चालू नहीं हो सके हैं उनका विवरण भी मांगा जाएगा। इसके लिए विभाग की ओर से बकायदा सभी सिविल सर्जनों को पत्र भेजने की तैयारी है।

पटना: ग्रेजुएशन पास छत्राओं को जल्द मिलेगा 50-50 हजार रुपए

मरीजों को जांच की सुविधाएं समय पर मिल सके इसके लिए जिला व अनुमंडल स्तर के अस्पतालों में उपकरणों का चालू हालात में होना आवश्यक है। इसी को गंभीरता से लेते हुए विभाग ने अस्पताल स्तर पर मॉनिटरिंग टीम गठन का प्रस्ताव तैयार किया है। ताकि मुख्यालय को उपकरणों की जानकारी रोज मिल सके। बता दें मॉनिटरिंग टीम प्रतिदिन उपकरणों की अद्यतन स्थिति से विभाग के अवगत कराएगी। अगर कर्मचारी की लापरवाही या कमी की वजह से उपकरण चालू नहीं होते हैं और जांच प्रभावित होती है तो इसकी जानकारी भी देगी। 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें