छीनाझपटी की घटनाओं में कोढ़ा गैंग का हाथ, शातिर पकड़ने कटिहार जाएगी पटना पुलिस

Smart News Team, Last updated: 17/10/2020 12:58 PM IST
  • कोढ़ा गैंग के शातिरों ने डेढ़ माह में राजधानी में कई घटनाओं को अंजाम दिया है. सीसीटीवी फुटेज खंगालने पर बीते दिनों हुई कई वारदातों में इस गैंग की संलिप्तता पाई गई है.
पटना में दिन-दहाड़े लूट, बाइक सवार बदमाशों ने महिला से 60 हजार छीने

पटना. राजधानी में आए दिन छीनाझपटी की कई घटनाएं हो रही हैं. पुलिस तफ्तीश में राजधानी के कई थाना क्षेत्रों में होने वाली छीनाझपटी की घटनाओं में कटिहार की कोढ़ा गैंग की संलिप्तता पाई गई है. इस गैंग ने गांधी मैदान, पीरबहोर, बुद्धा कॉलोनी, खगौल व कोतवालीसमेत कई थाना क्षेत्रों में वारदातें की हैं. कई इलाकों की सीसीटीवी फुटेज में इसका खुलासा हुआ है. पता चला है कि इस गैंग के शातिरों ने डेढ़ माह में कई घटनाओं को अंजाम दिया है लेकिन अब तक गिरफ्त में नहीं आए हैं. जिस कारण अब पटना पुलिस की विशेष टीम इस गैंग की तलाश में कटिहार जाएगी.

जानकारी के मुताबिक पटना के म्यूजियम के पीछे दो दिन पहले छीनाझपटी की एक वारदात को अंजाम दिया था. इसके अलावा 3 अक्टूबर को इस गैंग की ओर से पटना विश्वविद्यालय गेट के पास एक बड़ी वारदात की थी. जिसमें रेलवे के रिटायर्ड इंजीनियर शकीलुर्रहमान को निशाना बनाया गया था. गैंग के लोग उनसे दो लाख रुपए छीनकर फरार हो गए थे. 7 अक्टूबर को इन शातिर अपराधियों ने एग्जीबिशन रोड पर वारदात की और कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारी के साथ वारदात की और उससे डेढ़ लाख रुपए छीनकर फरार हो गए. इसी तरह इस गैंग के लोगों ने एक और वारदात खगौल में भी की थी. जहां उन्होंने एक व्यक्ति से दो लाख रुपए छीनने की घटना को अंजाम दिया. इस सभी घटनाओं में कोढ़ा गैंग का हाथ पाया गया. 

रविशंकर प्रसाद का बड़ा बयान, बिहार चुनाव में NDA के चारों दल चट्टानी एकता के साथ

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि पीरबोह और कोतवाली थाने की पुलिस ने कोढ़ गैंग के कई गुर्गों को करीब छह महीने पहले गिरफ्तार किया था. पीरबोह थाने की पुलिस ने वारदातें करने वाले इस गिरोह के पांच शातिरों को और कोतवाली पुलिस ने कटिहार जाकर इस गैंग के लोगों को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने सभी आरोपियों को कोर्ट में पेश कर जेल भी भेज दिया था. गौरतलब है कि सभी आरोपी बीते दिनों में कोर्ट से जमानत हासिल कर जेल से बाहर आने में कामयाब हो गए थे. उसके बाद से इन अपराधियों ने फिर से राजधानी में वारदातों को अंजाम देना शुरू कर दिया और आए दिन कोई ना कोई छीनाझपटी की वारदात करते रहते हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें