यही है सुशासन? राजधानी पटना में सुपौल जा रही मां-बेटी को रास्ते से किया अगवा

Smart News Team, Last updated: Thu, 2nd Jul 2020, 2:32 PM IST
  • बिहार की राजधानी पटना में किडनैपिंग का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। पटना से सुपौल जा रही मां-बेटी को रास्ते से ही अगवा कर लिया गया है।
प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार की राजधानी पटना में किडनैपिंग का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। पटना से सुपौल जा रही मां-बेटी को रास्ते से ही अगवा कर लिया गया है। इस मामले में पीड़ित मिथिलेश कुमार की ओर से सुपौल निवासी अपने पड़ोसी युवक मनीष कुमार पर अपहरण करने का आरोप लगाया गया है और इस मामले एसएसपी को शिकायती पत्र देकर गुहाल लगाई गई है। पीड़ित ने यह भी आरोप लगाया है कि आरोपित ने पत्नी व बेटी को खोजने पर फोन कर जान से मारने की धमकी भी दी है।

पीड़ित के मुताबिक, वह गुरुग्राम में रहकर मोबाइल कंपनियों का सिम बेचता है। मूलरूप से वह सुपौल के बैरा पंचायत का रहने वाला है। गुरुग्राम में ही उसकी पत्नी वंदना व 15 वर्षीय बेटी अर्पिता उसके साथ रहती थी। 13 जून को पत्नी अपनी बेटी के साथ दिल्ली से पटना पहुंची। इसके बाद दोनों राजाबाजार गईं। वहां से एक मित्र के यहां से सामान लेकर ऑटो बुक कर पत्नी व बेटी पटना के चिरैयाटांड़ पहुंची। दोनों अबतक घर नहीं पहुंची हैं। खोजबीन के दौरान पता चलने पर ऑटो चालक ने बताया कि चिरैयाटांड़ पर दोनों को उतार कर चला आया। वहां कोई मनीष नाम का युवक मां-बेटी को मददगार बनकर मिला था।

पीड़ित ने आरोप लगाया कि आरोपीमनीष ने ही धोखे से मेरी पत्नी व बेटी को अगवा किया है। पुलिस द्वारा निकाली गई कॉल डिटेल में उसका लोकेशन गुजरात बता रहा है जबकि मेरी पत्नी व बेटी का मोबाइल घटना के बाद से ही बंद है। पीड़ित ने एसएसपी से आरोपित की गिरफ्तारी व पत्नी-बेटी के सकुशल बरामदगी की गुहार लगाई गई है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें