पटना

ठनका गिरने से पटना में 6 मरे, बिहार भर में व्रजपात से 26 की मौत

Smart News Team, Last updated: 02/07/2020 07:23 PM IST
  • बिहार में व्रजपात एक फिर 26 लोगों की मौतों का कारण बन गया। राजधानी पटना में ठनका गिरने से 6 लोगों की मौत हो गई।
बिहार में ठनका का कहर, 22 लोगों की मौत

पटना. बिहार में व्रजपात का कहर लगातार जारी है। राज्य में आसमान से बरसी आपदा में गुरुवार को 26 लोगों की जान ले गई। बिहार राज्य आपातकालीन संचालन केंद्र के अनुसार, सिर्फ राजधानी पटना में ही ठनका गिरने से 6 लोगों की मौत हो गई। वहीं पूर्वी चंपारण में चार, समस्तीपुर में सात, शिवहर में 2, कटिहार में तीन, माधेपुरा में दो, पूर्णियां और पश्चिमी चंपारण में भी एक-एक व्यक्ति ठनका की चपेट में आ गए। इससे पहले भी ठनका गिरने से राज्य में काफी संख्या में मौत हो चुकी हैं।

गौरतलब है कि मंगलवार को बिहार में व्रजपात होने के कारण पांच जिलों में 11 लोगों की मौत हुई। इनमें पांच लोग सारण जिले के थे जबकि दो लोगों की नवादा जिले में ठनका गिरने से मौत हो गई। इसकी चपेट में आकर लखीसराय व जमुई में भी एक-एक जान गई थी।

व्रजपात या बिगड़ते मौसम में ऐसे रखें अपना ध्यान

1. अगर बादल गरज रहे हैं और आप घर से बाहर हैं तो ऊंचे पेड़ों की शरण न लें। बारिश से बचने के लिए भी ऐसा न करें सिर्फ छोटे पेड़ों के आसपास रहें।

2. अगर आप खुले आसमान के नीचे अकेले फंसे हैं तो कोशिश करें कि किसी गड्ढे या नीची चट्टान की ओट ले ली जाए।

3. बाहर निकलते समय सिर्फ उसी छतरी का इस्तेमाल करें जिसका हैंडल किसी और धातु के बजाय लकड़ी का लगा हो।

4. किसी भी हालत में अपने आसपास कोई भी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जैसे लैपटॉप या मोबाइल फोन आदि चालू न रखें।

5. बिजली के खंभों और टावरों से बचें, वाहनों से निकलकर सुरक्षित स्थान पर जाएं।

6. आकाश में बिजली चमकते समय धातु के तारों, खिड़की, ग्रिल आदि से दूर रहें। उस दौरान बिजली का हर उपकरण बंद रखें।

अन्य खबरें